हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा ने की गया के पूर्व एसएसपी की गिरफ्तारी की मांग, सीएम नीतीश को लिखी चिट्ठी

हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा ने की गया के पूर्व एसएसपी की गिरफ्तारी की मांग, सीएम नीतीश को लिखी चिट्ठी

PATNA : हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा ने गया के पूर्व एसएसपी आदित्य कुमार के गिरफ्तारी की मांग की है। मोर्चा के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव डॉ दानिश रिजवान ने इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा है। सीएम को लिखे पत्र में डॉ दानिश ने कहा है कि शराबबंदी तोडने वालों को जब पुलिस गिरफ्तार कर रही है तो आखिर किसके शह पर गया कोर्ट से जमानत खारिज होने के बावजूद अभी तक आदित्य कुमार की गिरफ्तारी नही हुई है।


पत्र में उन्होंने लिखा है की हम सभी जानतें हैं कि यदि आज बिहार नशा मुक्ति की ओर आगे बढ रहा है तो उसमें सबसे बड़ा योगदान आपका है जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। बड़े से बड़ा नेता हो या और कोई भी शराबी आप कहीं से नहीं बख़्शतें। लेकिन गया के पूर्व SSP आदित्य कुमार का नाम जैसे सामने आता है ऐसा प्रतीत होने लगता है कि कहीं ना कहीं से प्रशासनिक अमला उस व्यक्ति को बचाने में लगा हुआ है।

किसी के घर पुलिस को सिर्फ शराब होने की सूचना मिल जाए तो उस घर की नई नवेली दुल्हन तक का कमरा खुलवाकर चेकिंग की जा रही है। लेकिन शराब माफियाओं के मददगार पूर्व SSP की जमानत याचिका खारिज होने के बावजूद आज तक ना तो उन्हें पुलिस ने पकड़ा ना ही उनके घर पर छापेमारी की गई। बल्कि उसके विपरित उन्हें गया जिला बल से दो-दो सुरक्षाकर्मी, गया BMP से खाना बनाने के लिए कूक, टेलर, सफाईकर्मी के अलावा गया BMP से वह तमाम सुविधाएं दी जा रहीं हैं जो बिहार के एक कैबिनेट मंत्री को भी नहीं मिलती है।

पत्र में लिखा गया है की बिहार पुलिस शराब माफियाओं के मददगारों को दूसरे राज्यों से पकड़कर जेल भेज रही है। वहीं दूसरी तरफ कोर्ट की नजर में फरार IPS ऑफिसर को वही पुलिस सुरक्षा मुहैया करा रही है,जो अपने आप में कई सवालों को जन्म दे रही है। 


Find Us on Facebook

Trending News