पटना में बोले राजनाथ, राजनीति राम के हाथों में भक्ति, कृष्ण के पास युक्ति ...भ्रष्ट नेता के हाथ में संपत्ति और विपत्ति बन जाती है

PATNA :  केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और बीजेपी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने कहा कि राजनीति जब महात्मा गांधी और सुभाष बोस के हाथों में जाती है तो शक्ति बनती है, राम के हाथों में भक्ति और कृष्ण के हाथों में युक्ति बन जाती है। दुखद यह है कि राजनीति अगर भ्रष्ट लोगों के हाथ में गई तो संपत्ति और विपत्ति बन जाती है। राजनाथ सिंह ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार के दाग नहीं हैं। मोदी जी के नियत और इमान पर कोई आरोप नहीं लगा सकता है। राजनाथ सिंह शनिवार को पटना के अधिवेशन भवन में भारत के मन की बात कार्यक्रम में बोल रहे थे।

राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारी सरकार ने तय किया कि बैंक खाता केवल उद्योगपति का नहीं, आम आदमी का भी हो। आप पूछेंगे कि खाता खोलने से क्या होता है? ज़रा किसी वैसे गरीब से पूछिए, जो साहूकारों के चंगुल में है। बिहार से खास जुड़ाव है, बिहार पूरे देश के सांस्कृतिक और मानसिक विकास का परिचायक है। बिहार के चंपारण से शुरू हुआ आंदोलन भारत माता की गुलामी की बेड़ी को काटने वाला हुआ।

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत के बारे में लोंगों की धारणा बदल चुकी है। भारत चार साल पहले दुनिया के देशों में नवें स्थान पर था आज पाँचवे स्थान पर है। भारत दस वर्ष में दुनियाँ के टाप थ्री देशों में शामिल होगा। हम भारत को दुनियाँ को डराने वाला देश नहीं बनाना चाहते, हम भारत को विश्व गुरू बनाना चाहते हैं।मोदी जी ने पडोसी देश को सबक सिखाया , जैसे को तैसा सिद्धांत पर हम लोगों को जवाब देते हैं।

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि राजनीति में संवाद एकतरफा रहता है,लकिन बीजेपी ने तय किया है कि संवाद दोतरफा होनी चाहिये।राजनीति को जन-जन की बनानी है। उन्होंने कहा कि 2019 का चुनाव महत्वपूर्ण है। बीजेपी का घोषणा पत्र संकल्प पत्र है। सभी समाज के साथ बातचीत कर संकल्प पत्र बनेगा।


Find Us on Facebook

Trending News