डिप्टी CM की 'यात्रा' पर कितना खर्च? मंत्रियों के 'बंगले' पर ही नहीं 'यात्रा' पर भी पानी की तरह बहाये जाते हैं पैसे! सुशील मोदी पर कितना होता था व्यय,जानें...

डिप्टी CM की 'यात्रा' पर कितना खर्च? मंत्रियों के 'बंगले' पर ही नहीं 'यात्रा' पर भी पानी की तरह बहाये जाते हैं पैसे! सुशील मोदी पर कितना होता था व्यय,जानें...

PATNA: बिहार के मंत्रियों को सरकार की तरफ से हर तरह की सुविधा मुहैया कराई जाती है। बड़े-बड़े बंगला से लेकर महंगी गाड़ियों के साथ हर वो सुविधा मिलती है। हर किसी को जानने की यह इच्छा होती है कि जनता के सेवक पर गाढ़ी कमाई का कितना पैसा खर्च होता है? कुछ साल पहले बिहार के लोगों ने देखा और सुना कि एक मंत्री के बंगले के साजो-सज्जा पर किस तरह से जनता की कमाई का पैसा बहाया गया था। सिर्फ बंगला के साज-सज्जा पर ही नहीं बल्कि मंत्रियों के घुमने पर भी सरकार बड़ी राशि खर्च करती है। हर साल एक-एक मंत्री की यात्रा भत्ता पर लाखों रू खर्च की जाती है।हम आपको पिछले एक साल के दौरान मंत्री की यात्रा भत्ता पर कितनी राशि खर्च हुई इस बतायेंगे। एक वर्ष में डिप्टी सीएम की यात्रा भत्ता पर पानी की तरह पैसे बहाये गये।

कैबिनेट सचिवालय ने दी जानकारी 

सूचना के अधिकार के तहत 1 जनवरी 2019 से लेकर 31 जनवरी 2020 तक बिहार के मंत्रियों के यात्रा व्यय की जानकारी मांगी गई थी। बिहार के कैबिनेट सचिवालय ने 12 नवंबर 2021 को इसकी जानकारी दी है। आरटीआई से मिली जानकारी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पिछले कैबिनेट के सभी मंत्रियों के यात्रा पर हुए व्यय की सूचना है। नीतीश सरकार में तत्कालीन डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी की यात्रा पर सबसे अधिक व्यय हुआ है।

सुशील मोदी की यात्रा पर सबसे अधिक खर्च 

कैबिनेट सचिवालय की तरफ से जो जानकारी दी गई है उसमें 2019 में डिप्टी सीएम रहे सुशील मोदी की 14 बार के यात्रा व्यय की जानकारी दी गई है। 5 जनवरी 2019 से लेकर 20 मार्च 2020 तक का उल्लेख है। 5 जनवरी 2019 से 31.1.19 के बीच सुशील मोदी की यात्रा पर एक लाख 56 हजार 646 रू खर्च किये गये। वहीं 2.2.19-24.2.19 के बीच 1 लाख 81 हजार 189 रू व्यय किये गये। 3.3.19 से 18.3.19 के बीच 59965 रू, 25.5.19-14.6.19 के बीच 69067 रू, 17.6.19-29.6.19 के बीच 60359 रू, 14.9.19-22.9.19 के बीच 70805 रू,11.7.19-29.7.19 के बीच 82841 रू, 4 सितंबर 19 से 11 सितंबर 2019 के बीच 3 लाख 47 हजार 980 रू खर्च किये गये।

बंगला पर ही नहीं घुमने पर भी जनता की गाढ़ी कमाई हो रहा खर्च  

कैबिनेट सचिवालय से मिली जानकारी के मुताबिक 5.10.19-2.12.19 के बीच 56542 रू, 6.12.19- 23.12.19 के बीच  84638 रू, 17.1.20- 30.1.20 के बीच 43408 रू, 17.1.20 से 31 जनवरी 20 के बीच 53470 रू,15.2.20-19.2.20 के बीच 30983 रू और 6 मार्च 2020 से 20 मार्च 2020 के बीच 84913 रू खर्च हुए। इस तरह से सुशील मोदी की यात्रा पर सरकार का लगभग 14 लाख रू खर्च हुआ।

Find Us on Facebook

Trending News