मरती जा रही इंसानियत! छोटे बेटे के लिए पिता का प्यार बड़े को नहीं हुआ बर्दाश्त, गुस्से में उठा लिया खतरनाक कदम

मरती जा रही इंसानियत! छोटे बेटे के लिए पिता का प्यार बड़े को नहीं हुआ बर्दाश्त, गुस्से में उठा लिया खतरनाक कदम

SUPAUL : सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज में हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जिस पिता ने अपना खून- पसीना बहा कर औलाद को पाला-पोसा, उसी औलाद ने जरा सी जमीन के लालच में अपने पिता को ही मौत के घाट उतार दिया. दरअसल मामला थाना क्षेत्र के लतोना उत्तर वार्ड नंबर 4 की है जहां बीते 20 जुलाई की रात्रि सोए अवस्था में मृतक  जगदीश यादव की गोली मारकर हत्या कर दी थी, उसी जगह पर शव को छोड़ दिया। जिसकी कानो कान खबर आसपास के ग्रामीणों को लगी। ग्रामीणों ने घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सुपौल भेज दिया था. घटना के बाद पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई थी. 

घटनाओं  को लेकर मृतक जगदीश यादव की पत्नी रीता देवी ने स्थानीय थाने में आवेदन देकर अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध कांड संख्या 351 /2022 दर्ज कराया था।इस घटना को गंभीरता से लेते हुए डीएसपी गणपति ठाकुर ने स्थानीय थाना अध्यक्ष संदीप कुमार सिंह को कड़ी निर्देश दिए थे कि इस घटना में जो भी लोग संलिप्त है उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाए । पुलिस ने महज कुछ ही दिनों  बाद  हैरान कर देने वाला खुलासा किया है। मृतक जगदीश यादव के हत्यारे मृतक का बेटा भूषण यादव ही निकला। शनिवार को मृतक जगदीश यादव की बड़े बेटे भूषण यादव को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की पूछताछ में मृतक जगदीश यादव की हत्या का गुनाह कलयुगी बेटे ने कबूल भी कर लिया है. हत्या का कारण पारिवारिक लड़ाई झगड़ा बताया जा रहा है.


 इस बाबत डीएसपी गणपति ठाकुर ने कहा कि मृतक जगदीश यादव के 2 पुत्र हैं बड़े पुत्र भूषण यादव छोटे पुत्र रोशन कुमार मृतक जगदीश यादव के बड़े पुत्र भूषण यादव को तरजीह नहीं देते थे.मृतक छोटे पुत्र के साथ रहते थे . मृतक जगदीश यादव को बड़े पुत्र भूषण यादव के साथ जमीन का हिस्सा को लेकर पहले से ही विवाद चल रहा था. ग्रामीण स्तर पर कई बार पंचायती भी हुई लेकिन भूषण यादव पंचों की बाद मानने से इंकार करता रहा 14 जुलाई को भूषण यादव घर से हरियाणा काम करने जाने की बात बताकर निकला और जगदीश यादव की हत्या के उपरांत 22 जुलाई को वापस घर लौटा अनुसंधान से यह बात स्पष्ट हुई है कि रोशन यादव त्रिवेणीगंज में ही थे एवं अन्य सहयोगी के संपर्क में थे.साथ ही घटना के समय ये अपने गांव में थे मौजूद थे.

 भूषण यादव अपने हाथ से पिता की गोली मारकर हत्या कर दिया है जबकि धटना में दो और लोगो की संलिप्तता की बात सामने आ रही है. जिनके विरूद्ध आगे की कार्रवाई की जा रही है गिरफ्तार  भूषण यादव को न्यायिक हिरासत में भेजने की तैयारी की जा रही है . कलयुगी बेटे द्वारा पिता की हत्या की खबर जिसने सुनी, वह सन्न रह गया. गिरफ्तारी टीम  में शामिल थाना अध्यक्ष संदीप कुमार सिंह, मनीषा चक्रवर्ती के अलावे अन्य पुलिस बल शामिल थे

Find Us on Facebook

Trending News