पति ने लिखी थी पत्नी की हत्या की पूरी स्क्रिप्ट, साली से शादी करने के लिए सुपारी किलर से कराई थी हत्या

पति ने लिखी थी पत्नी की हत्या की पूरी स्क्रिप्ट, साली से शादी करने के लिए सुपारी किलर से कराई थी हत्या

NEWS4NATION DESK : साली के प्रेम में पागल और उससे शादी करने के लिए एक शख्स ने 2 लाख की सुपाड़ी देकर अपनी पत्नी की  हत्या करा दी। इतना ही नहीं हत्या की पूरी प्लानिंग उसने खुद की थी। पुलिस जांच में इस  बात का खुलासा हुआ है।

दरअसल एनसीआर के लोनी के बेहटा हाजीपुर मेवात चौक के पास 11 जनवरी को कारोबारी आसिफ के घर लाखों की लूट और विरोध करने पर पत्नी समरीन की हत्या कर दी गई थी। इस मामले का पुलिस ने बुधवार को खुलासा किया।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि उसके बाद आशिफ ने पत्नी को रास्ते से हटाने के लिए एकबार फिर योजना बनाई। इसबार वह सफल भी रहा। पूरी वारदात की स्क्रिप्ट कारोबारी आसिफ ने ही तैयार की थी। वह अपनी सालीसेशादी करना चाहता था। चूंकि उसकी शादी कुछ महीने बाद ही होनी थी इसलिए उसे रोकने के लिए उसने अपने दो दोस्तों की मदद से 3 बदमाशों को वारदात के लिए 2 लाख रुपये की सुपारी दी। किसी को शक न हो इसलिए उसने मामला लूट का बनाया। 

एसएसपी ने बताया कि पुलिस ने आसिफ समेत वारदात की प्लानिंग करने वाले इसके दो दोस्तों रवि और संदीप को गिरफ्तार किया है। घर में 3 बदमाश घुसे थे, इसमें एक सुनील शर्मा सुपारी लेने वाला भी था। पुलिस इन तीनों की तलाश कर रही है। एसएसपी ने वारदात का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 20 हजार रुपये इनाम देने की भी घोषणा की है।
 
 इस बीच आसिफ की साली की शादी मार्च में ठीक हो गई। शादी रुकवाने के लिए उसने फिर से पत्नी की हत्या का प्लान बनाया। इसके लिए उसने रवि के कहने पर एक और झोलाछाप डॉक्टर संदीप से संपर्क किया। संदीप ने अपने दूर के एक साले सुनील शर्मा (मुरादाबाद) को इसके लिए 2 लाख रुपये की सुपारी दिलाई। इसके 90 हजार रुपये एडवांस में दिए गए। सुनील पर मुरादाबाद और उत्तराखंड के कई जिलों में लूट व हत्या के मामले दर्ज हैं।
 
 
एसएसपी ने बताया कि आसिफ ने स्वीकार किया है पत्नी की हत्या के लिए 11 जनवरी को रात करीब 9 बजे ही उसने सुनील और उसके दो अन्य साथियों को अपने घर के ग्राउंड फ्लोर पर बने स्टोर में छिपा दिया था। देर रात को उन्होंने समरीन की हत्या कर दी। वारदात लूटपाट लगे इसलिए उसने बदमाशों से अपने हाथ-पांव बंधवा लिए और कुछ सामान भी लेकर फरार करवा दिया। इससे उसके बच्चों और साले को भी असलियत न पता लगे।

एसएसपी ने बताया कि आसिफ की अपनी साली से करीब 3 साल से नजदीकियां थीं। उसकी पत्नी समरीन इसका विरोध कर रही थी। इस कारण दोनों के बीच अक्सर झगड़ा भी होता था। आसिफ पत्नी को रास्ते से हटाने की प्लानिंग पिछले डेढ़ साल से कर रहा था। उसने करीब 6 महीने पहले समरीन को ठिकाने लगाने के लिए अपने एक दोस्त रवि जो पेशे से झोलाछाप डॉक्टर है से मदद मांगी थी। पूछताछ में रवि ने बताया कि आसिफ के कहने पर बीमार होने पर उसने समरीन को दवा बताकर जहरीला इंजेक्शन भी लगाया था, लेकिन वह बच गई थी। इसके लिए आसिफ ने रवि को 30 हजार रुपये भी दिए थे।

Find Us on Facebook

Trending News