ईद-उल-अजहा पर्व पर 130 किलो के भेड़ की कुर्बानी देगा परिवार,कोरोना से मुक्त्ति की है उम्मीद

ईद-उल-अजहा पर्व पर 130 किलो के भेड़ की कुर्बानी देगा परिवार,कोरोना से मुक्त्ति की है उम्मीद

DESK: आज से कुछ ही दिन बाद मुश्लिम समुदाय का प्रमुख पर्व ईद-उल-अजहा मनाया जायेगा.इस मौके पर कुर्बानी का विशेष महत्व है और इसी को लेकर हैदराबाद के एक परिवार ने ये ऐलान किया है कि वो अपनी डेढ़ लाख की भेड़ की कुर्बानी देंगे.भेड़ के मालिक का मानना है कि इसकी कुर्बानी से अल्लाह दुनिया को कोरोना वायरस से निजात दिलाएंगे.मोहम्मद सरवार के मुताबिक उसके परिवार का उद्देश्य है कि वो हर साल स्वस्थ और मजबूत जानवर का त्याग करें.


सरवार ने बताया कि हर साल ईद-उल-अजहा के मौके पर, हम अल्लाह के नाम पर स्वस्थ और शक्तिशाली जानवर का त्याग करते हैं.सदियों से हमारा परिवार इस परंपरा को निभाता आ रहा है.हमारी भेड़ का नाम प्यारी मोहम्मद हैऔर उसका वजन 128-130 किलो के बीच है.उनका कहना है कि वो अपनी भेड़ को मेवा, सेब, दूध और बेसन खिलाते थे.हम हर दिन अपनी भेड़ को दिन में दो बार टहलाने ले जाते थे.

ईद-उल-अजहा के मौके पर सर्वशक्तिशाली अल्लाह के नाम पर इस भेड़ का त्याग किया जा रहा है.हमें उम्मीद है कि भगवान हमारे त्याग को स्वीकार करेंगे और कोरोना वायरस महामारी से बाहर लेकर आएंगे.मालिक ने बताया कि इस नस्ल वाली भेड़ विलायती कहलाती है, इसे ईद-उल-अजहा के दिन कुर्बानी के लिए लाया गया है.

बता दें कि इस बार ईद-उल-अजहा गुरुवार की शाम से शुक्रवार की शाम तक मनाई जाएगी.

Find Us on Facebook

Trending News