हालत सुधरे तो रेलवे यात्रियों के लिए फिर से शुरू करने जा रही है यह सुविधा, कोरोना के कारण 18 माह से बंद थी सर्विस

हालत सुधरे तो रेलवे यात्रियों के लिए फिर से शुरू करने जा रही है यह सुविधा, कोरोना के कारण 18 माह से बंद थी सर्विस

NEW DELHI : कोरोना से देश को धीरे धीरे राहत मिलने लगी है। लगभग सभी चीजें सामान्य होने लगी हैं। इनमें रेलवे का परिचालन भी शामिल है। जहां रेलवे ने लगभग सभी ट्रेनों का परिचालन फिर से आरंभ कर दिया है, वहीं अब रेल यात्रियों के लिए रेलवे यात्री सुविधा कमेटी ट्रेनों में ऑन बोर्ड कैटरिंग सर्विस समेत कई दूसरी सुविधाएं एक बार फिर बहाल करने जा रही है।  ट्रेनों में कोरोना की पहली लहर के बाद से ही पेंट्री की केटरिंग पर रोक लगी हुई थी, जिसे अब 18 महीने बाद इसे फिर से शुरू किया जा सकता है।

अलग से नहीं करनी होगी बुकिंग

ट्रेनों में खाने के लिए यात्रियों को अलग से कोई बुकिंग नहीं करनी होगी। प्रीमियम ट्रेनों में टिकट के साथ ही खाने की सुविधा मिलेगी, जबकि दूसरी ट्रेनों में यात्री पहले की तरह पेमेंट देकर पेंट्री से खाना ले सकेंगे।

रेल मंत्री के साथ यात्री सुविधा समिति की बैठक में होगा फैसला

बताया जा रहा है कि 25 या 26 अक्टूबर तक यात्री सुविधा समिति की बैठक रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के साथ होनी है। इसमें खाना समेत बाकी सर्विसेस को दोबारा शुरू करने को लेकर चर्चा होगी।  इस बैठक में रेलवे बेस किचन, ऑन बोर्ड कैटरिंग सर्विस शुरू करने पर निर्णय लिया जा सकता है। इसको लेकर विभाग और मंत्रालय को एक प्रेजेंटेशन भी दिया गया है।


अभी ट्रेनों में रेडी टू ईट की सुविधा

फिलहाल यात्रियों की सुविधा को देखते हुए रेलवे बोर्ड के निर्देश पर IRCTC ने ट्रेनों में रेडी टू ईट फूड देने की शुरुआत की थी, लेकिन ज्यादातर यात्रियों को रेडी टू ईट फूड पसंद नहीं आ रहा था। जिसकी शिकायतें कई बार IRCTC को भी मिली है। IRCTC के पास कैटरिंग और टूरिज्म का कोर बिजनेस है। पहले के मुकाबले महज 30 फीसदी ट्रेनों में लोग खाना खरीदना पसंद कर रहे हैं। मसलन पहले किसी ट्रेन के फेरे में 5 लाख तक की बिक्री होती थी तो अब वह घटकर महज 1.5 लाख रु. की रह गई है। IRCTC 19 राजधानी, 2 तेजस, 1 गतिमान, 1 वंदे भारत, 22 शताब्दी, 19 दूरंतो और 296 मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों में कैटरिंग सर्विस देती है।

अब जब स्थिति सुधरने लगी है, तो एक बार फिर से ट्रेन में ही कैटरिंग सर्विस शुरू करने पर विचार किया जा रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News