सैनिटाइजर की आड़ में अवैध धंधा, पुलिस ने किया खुलासा, फैक्ट्री के मालिक को किया गिरफ्तार

सैनिटाइजर की आड़ में अवैध धंधा, पुलिस ने किया खुलासा, फैक्ट्री के मालिक को किया गिरफ्तार

अलीगढ़. कोतवाली अतरौली इलाके में सैनेटाइजर बनाने के लिए गलत मैटेरियल इस्तेमाल कर मोटा मुनाफा कमाने की फिराक में लगे कारोबारी पर आबकारी के नियमों की धज्जियां उड़ाने के एवज़ में मुकदमा दर्ज करते हुए सैनिटाइजर बनाने वाली फैक्ट्री के मालिक को गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है. हिना केमिकल इण्डस्ट्रियल इस्टेट सैनिटाइजर बनाने वाली फैक्ट्री पर आबकारी विभाग की टीम के द्वारा निरीक्षण किया गया. निरीक्षण के दौरान निर्मित थिनर स्टॉक से नमूना लेकर परीक्षण के लिए क्षेत्रीय आबकारी, प्रयोगशाला मेरठ भेजा गया था. परीक्षण रिपोर्ट में मिथाइल एल्कोहल टेस्ट पॉजिटिव पाया गया.

अलीगढ़ आबकारी विभाग के द्वारा सैनिटाइजर फैक्ट्री के नाम पर  मिथाइल एल्कोहल कैमिकल का गलत इस्तेमाल कर आबकारी विभाग को नुकसान पहुंचाने के कारण आज आबकारी विभाग के आदेश पर अलीगढ़ के कोतवाली अतरौली पुलिस के द्वारा फैक्ट्री मालिक के खिलाफ आबकारी अधिनियम सहित अन्य संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है. वहीं पुलिस के द्वारा आरोपी के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

दरअसल पूरा मामला अलीगढ़ की कोतवाली अतरौली का है, जहां पर हिना केमिकल के नाम से संचालित फैक्ट्री में मिथाइल अल्कोहल का गलत इस्तेमाल करना पाया गया है. इसको लेकर आबकारी अधिकारियों के द्वारा जांच पड़ताल के लिए सैनिटाइजर नमूने को मेरठ लैब में भेजा गया था, जहां पर एल्कोहल की पुष्टि पॉजिटिव होने पर आरोपी फैक्ट्री मालिक के खिलाफ संबंधित धाराओं में कोतवाली अतरौली में मुकदमा पंजीकृत करने के आदेश दिए गए. इसको लेकर थाना अतरौली में  फैक्ट्री सीज करते हुए पुलिस के द्वारा फैक्ट्री मालिक को गिरफ्तार कर लिया है.

क्षेत्राधिकारी अतरौली शिव प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि सैनेटाइजर बनाने के लिए गलत मैटेरियल इस्तेमाल कर मुनाफा कमाने की फिराक में लगे कारोबारी पर आबकारी के नियमों की धज्जियां उड़ाने के एवज़ में मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसमे थाना अतरौली क्षेत्र में हिना केमिकल इण्डस्ट्रियल इस्टेट शेड- जो सैनिटाइजर आदि बनाती है. इसका निरीक्षण आबकारी की टीम टीम द्वारा किया गया था. निरीक्षण के दौरान निर्मित थिनर स्टॉक से नमूना लेकर परीक्षण हेतु क्षेत्रीय आबकारी, प्रयोगशाला मेरठ भेजा गया था.

परीक्षण रिपोर्ट में मिथाइल एल्कोहल टेस्ट पॉजिटिव पाया गया, जिससे स्पष्ट है कि उप जिलाधकारी के स्थान पर मिथाइल एल्कोहल का उपयोग कर आबकारी राजस्व को हानि पहुँचायी जा रही थी. इसके संबंध में क्षेत्रीय आबकारी निरीक्षक ने थाना अतरौली पर आबकारी अधिनियम व 6 विष अधिनियम बनाम मैसर्स हिना केमिकल्स इण्डस्ट्रियल इस्टेट के प्रदीप कुमार के विरूद्ध पंजीकृत कराया, जिसमे आबकारी निरीक्षक द्वारा स्थानीय पुलिस के सहयोग से अभियुक्त प्रदीप कुमार उपरोक्त को गिरफ्तार कर फर्म से एक ड्रम 60 लीटर लिक्विड सफेद रंग, दो और बोतल एक-एक लीटर लिक्विड सफेद रंग और छह पेटियां जिनमें कुल 205 शीशी लिक्विड बरामद करते हुए आरोपी के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया गया है.


Find Us on Facebook

Trending News