प्रैक्टिकल के नाम पर छात्रों से की जा रही है अवैध वसूली, जिलाधिकारी बोले-होगी कार्रवाई

प्रैक्टिकल के नाम पर छात्रों से की जा रही है अवैध वसूली, जिलाधिकारी बोले-होगी कार्रवाई

NALANDA : बिहार में राज्य सरकार की ओर से शिक्षा के नाम पर अरबों रूपये खर्च किये जा रहे है. खासकर गरीब छात्रों के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड और स्वयं सहायता भत्ता जैसी योजनायें चलाई जा रही है. इसके बावजूद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के जिला मुख्यालय स्थित कॉलेजिएट प्लस टू में छात्रों से अवैध उगाही करने का मामला सामने आया है. 

छात्रों ने विद्यालय प्रशासन पर प्रैक्टिकल के नाम पर 300-400 रुपया अवैध उगाही करने का आरोप लगाया है. बताया जा रहा है की जिन छात्र से के द्वारा पैसे नहीं दिए जा रहे हैं.  उन्हें नंबर काट लेने की भी धमकी दी जा रही है. 

इस मामले को जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह ने गंभीरता से लिया है. उन्होंने कहा कि विद्यालय में प्रैक्टिकल के नाम पर राशि लेने का निर्धारण नहीं है. 

उन्होंने कहा की यदि इस तरह का कार्य कॉलेजिएट विद्यालय प्रशासन के द्वारा किया जा रहा है तो यह एक अपराध है. इसकी जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी.

नालंदा से राज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News