BIG BREAKING : शराबमुक्त बिहार में एक बार फिर जहरीली शराब से 6 लोगों की मौत के बाद मचा हड़कंप, कई लोग अस्पताल में हैं भर्ती

BIG BREAKING : शराबमुक्त बिहार में एक बार फिर जहरीली शराब से 6 लोगों की मौत के बाद मचा हड़कंप, कई लोग अस्पताल में हैं भर्ती

NAWADA : बड़ी खबर नवादा से आ रही है जहां जहरीली शराब की वजह से 6 लोगों की मौत होने के बाद हड़ंकप मच गया है. नवादा के गोंदपुर और खरीदी बीघा में पिछले 24 घंटे के अंदर 6 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. एक तरफ जहां बिहार में नीतीश सरकार शराबबंदी को लेकर बड़े-बड़े दावे कर रही है, वहीं दूसरी तरफ जहरीली शराब की मौत की खबर आना सरकार के काम पर सवालिया निशान उठा रहा है.

इस वारदात में 6 मृतकों के नाम सामने आए है, कई बीमार लोगों का इलाज अलग-अलग अस्‍पतालों में चल रहा है. इसक अलावा 7 लोगों को इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया है. खरीदी बीघा के मृतक दिनेश उर्फ शक्ति की पत्नी प्रियंका और बहन रेखा ने शराब पीने से मौत की बात स्वीकारी है. 

परिवार वालों के अनुसार गोंदपुर के रामदेव यादव, अजय यादव, खरीदी बीघा के दिनेश उर्फ शक्ति, शैलेंद्र उर्फ शलो यादव, लोहा सिंह ठठेरा, प्रभाकर गुप्‍ता और सि‍सवा के गोपाल कुमार की मौत जहरीली शराब पीने की वजह से हो गई है. सभी मृतक नगर थाना क्षेत्र के भदौनी पंचायत के रहने वाले हैं. मृतकों में शामिल खरीदी बीघा के दिनेश उर्फ शक्ति की पत्‍नी प्रियंका और बहन रेखा ने शराब पीने से मौत की बात कही है. प्रियंका ने बताया कि पति बीमार नहीं थे. उन्‍होंने शराब पी थी. इससे ही मौत हुई है. हालांकि जिले के डीएम और एसपी ने पहले घटना के प्रति अनभिज्ञता जाहिर की, फिर कहा कि जांच कराई जाएगी.


इस बीच राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के जिला उपाध्‍यक्ष व भदौनी पंचायत की मुखिया आबदा आजमी के पति प्रिंस तमन्‍ना ने कहा कि खरीदी बीघा में आठ तो गोंदापुर में सात की मौत जहरीली शराब से हुई है। उन्‍होंने मृतकों के स्‍वजनों को 20-20 लाख रुपये मुआवजा दिए जाने की मांग की है।

वहीं इस बड़ी वारदात के बाद नवादा एसपी ने महज इतना ही कहा है कि 'मामले की जानकारी मिली है. जांच की जा रही है'. आपको बता दें कि इससे पहले गोपालगंज में जहरीली शराब कांड का मामला सामने आया था. जिसमें बड़े पैमाने पर लोगों की जान गई थी और कई लोगों की आंखों की रोशनी चली गई थी. इस मामले में हाल ही में अदालत ने नौ दोषियों को फांसी की सजा, चार महिलाओं को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. 

Find Us on Facebook

Trending News