बिहार में कोरोना के मामलों में आई कमी या आंकड़ों की कलाबाजियों से कम गई संक्रमितों की संख्या

बिहार में कोरोना के मामलों में आई कमी या आंकड़ों की कलाबाजियों से कम गई संक्रमितों की संख्या

पटना. कोरोना के खतरे से जूझते बिहार के लिए सोमवार को राहत की खबर आई कि राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आई है. लेकिन आंकड़ों पर गौर करें तो इसमें एक अलग संकेत है. बिहार में सोमवार को कोरोना के 4,737 नए मामले सामने आए जो रविवार को आए 5,022 कोरोना मामलों की तुलना में 285 कम थे. एक दिन में करीब 6 फीसदी कोरोना मामले कम आने से राज्य को राहत मिली लेकिन इस कमी के पीछे भी एक बड़ा कारण है. 

दरअसल राज्य में रविवार को 1,96,909 सैंपल की जांच हुई थी लेकिन सोमवार को 1,51,475 लोगों के सैम्पल की जाँच की गई. यानी एक दिन के अंतर पर करीब 45 हजार कम सैम्पल की जाँच हुई और उसी अनुरूप कोरोना के मामलों में भी 285 का अंतर आ गया. विशेषज्ञों का कहना है कि जाँच के आधार पर ही कोरोना मामलों की संख्या तय होती है. अगर जाँच में कमी आई है तो स्वाभाविक है मामलों में कमी आ गई. 

ऐसे में 24 घंटों के दौरान कोरोना के मामलों में कमी आने का आंकड़ा राहत की खबर नहीं कही जा सकती है. अगर समान संख्या में सैम्पलों की जाँच हो तब स्पष्टता आएगी कि कोरोना की स्थिति में सुधार हुआ है या यह स्थिर है. हालाँकि जानकर यह भी मानते हैं कि सैम्पलों की संख्या में कमी आना यह दिखाता है कि लोग कम बीमार हो रहे हैं. यह कोरोना में मामलों में आ रही कमी का भी एक संकेत है. 

इस बीच स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को बताया कि भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 1,68,063 नए मामले आए हैं.  69,959 रिकवरी हुईं और 277 लोगों की कोरोना से मौत हुई. सोमवार को कोरोना के मामलों में बिहार 11वें स्थान पर था. 


Find Us on Facebook

Trending News