दूसरे शहरों को स्मार्ट बनाने में अपना गृह क्षेत्र की समस्या को भूले डिप्टी सीएम, हर मोहल्ले में जल जमाव बता रही है नगर के विकास की सच्चाई

दूसरे शहरों को स्मार्ट बनाने में अपना गृह क्षेत्र की समस्या को भूले डिप्टी सीएम, हर मोहल्ले में जल जमाव बता रही है नगर के विकास की सच्चाई

KATIHAR : बिहार के कई शहरों के साथ-साथ उपमुख्यमंत्री सह नगर विकास मंत्री तार किशोर प्रसाद के गृह जिला कटिहार जलजमाव की समस्या से जूझ रहा है। जहां बिहार के नगर विकास मंत्री प्रदेश के दूसरे शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के लिए दौरे कर रहे हैं, वहीं उनका गृह जिला कई प्रकार की मूलभूत समस्याओं से जूझ रहा है, जिसके निदान को लेकर कोई उपाय नहीं किए जा रहे हैं। जिनमें जलजमाव सबसे बड़ी समस्या बन गया है। 

शहर को नहर बनने को लेकर लोग नगर निगम और भू माफियाओं को को जिम्मेदार मानते हैं।  लोगों का कहना है निगम के अधिकारियों से मिली भगत कर ऐसे जल स्रोत के पीछे अवरोध उत्पन्न कर उसे रैयती जमीन बना दिया गया। नतीजा यह हुआ कि शहर में पानी निकासी के सभी रास्ते बंद हो गए और जलजमाव का न खत्म होनेवाली समस्या लोगों के सामने खड़ी हो गई।   

कोसी की जमीन पर किया कब्जा

चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष सह पार्षद विमल सिंह बैगानी कहते हैं की 1905 के नक्शा के अनुसार जिन इलाकों में कोसी नदी का धार हुआ करता था आज उन इलाकों में मोहल्ला बस दिया गया है, पूर्व उप- महापौर मंजूर खान कहते हैं की अब भी इन बिंदुओं पर ध्यान नहीं दिया गया है तो आने वाले दिनों में शहर की स्थिति और विकराल हो जाएगा, उधर कटिहार के जलजमाव के इस मुख्य वजह के सवाल पर डिप्टी सीएम सह नगर विकास मंत्री कहते हैं कि निश्चित तौर पर कटिहार के साथ-साथ बिहार के कई शहरों से ऐसी शिकायतें हैं अब नगर विकास विभाग के तरफ से इस हालात पर जल्द जांच करवा कर उचित उपाय किया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News