पटना में वाणिज्यकर विभाग की टीम ने बिना कागजात के रेडीमेड गारमेंट्स को पकड़ा, लाखों रुपये की हो रही थी कर चोरी

पटना में वाणिज्यकर विभाग की टीम ने बिना कागजात के रेडीमेड गारमेंट्स को पकड़ा, लाखों रुपये की हो रही थी कर चोरी

पटना. वाणिज्यकर विभाग की टीम ने छपरा में ह्यूमन इंटेलिजेंस के आधार पर एक कार्रवाई की है। इस दौरान लाखों रुपये के कर चोरी का मामला सामने आया। मिली जानकारी के अनुसार विभाग के केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो और सारण अन्वेषण ब्यूरो की संयुक्त टीम ने बिना वैध कागजातों के लाख रुपये के रेडीमेड गारमेंट्स को पकड़ा है।

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार परिवहित मालों से संबंधित रेलवे के डिमांड रिसिप्ट में कुल 194 बेल हैंडलूम क्लोथ अंकित है तथा इममें भेजने वाला कोलकता का देवा कार्गो और पाने वाले पार्टी का नाम छपरा का बब्बन दर्ज है, लेकिन भौतिक सत्यापन में कुल 149 बोरी रेडिमेट्स की गणना की गयी है। इन मालों से संबंधित न तो कई ई-वे बिल प्रस्तुत किया गया है और न ही कोई मनिफेस्ट दिया गया है।

इसी क्रम में गुप्त सूचना के आधारा पर औरंगाबाद के रफीगंज इलाके में मगध अन्वेषण ब्यूरो टीम के द्वारा एक वाहन को स्तंभित किया गया है। इसमें सूचना के मुताबिक बना ई-वे बिल के झारखंड से शगुन ब्रांड का टीएमटी बार बिहार को प्रेषित किया जा रहा था। उक्त वाहन को दुकान पर माल उतारने के क्रम में स्तांभित किया गया।

छपरा में प्रवर्तन कार्य के दौरान तीन अन्य गाड़ियां भी स्तंभित की गई है। इनमें टीएमटी से लदे एक ऐसी वाहन को स्तंभित किया गया है। इसमें वास्तविक माल इनवॉइस में दर्ज माल से भिन्न था तथा प्लेस ऑफ डिलेवरी भी छपरा की जगह सिवान अंकित था। अन्य दो वाहन भी रोके गये, जिनमें से एक में कोलकाता से चापा कल छपरा आ रहा था तथा दूसरे में दिल्ली से मिश्रित माल छपरा आ रहे थे। विभाग की आयुक्त सह सचिव द्वारा बताया गया कि विभाग करापवंचना को रोकने के लिए हर तरह से तत्पर तथा किसी भी माध्यम से टैक्स की चोरी कर रहे व्यापारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News