सीतामढ़ी में स्वास्थ्य विभाग का कारनामा, बंध्याकरण आपरेशन के बाद महिला ने जुड़वा बच्चे को दिया जन्म

सीतामढ़ी में स्वास्थ्य विभाग का कारनामा, बंध्याकरण आपरेशन के बाद महिला ने जुड़वा बच्चे को दिया जन्म

SITAMARHI : जिला स्वास्थ्य विभाग की जांच में एक और लापरवाही भरा मामला सामने आया है। जहां बंध्याकरण के 7 माह बाद एक महिला ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया है। मामला जिले के बोखारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का है। जहां प्रखंड क्षेत्र के सौरिया निवासी जयकरण सहनी की पत्नी मीरा देवी का विगत 22 फरवरी को बंध्याकरण का ऑपरेशन कराया गया। जिसके 6 माह बाद मीरा ने बीते शुक्रवार को एक लड़की और एक लड़के को जन्म दिया। बच्चे के जन्म के बाद जहां एक तरफ लोग खुश होते हैं तो वहीं जयकरण के घर में मातम छाया हुआ है। जयकरण को पहले से ही 5 बच्चे हैं। जिसको लेकर इन्होंने बंध्याकरण का ऑपरेशन कराया था। 


मीरा ने बताया कि उसने 22 फरवरी 2022 को वह बंध्याकरण का ऑपरेशन बोखरा पीएचसी में कराया था। उस वक्त महिला का एचआईवी समेत अन्य जांच कराया था। जिसके बाद उसका बंध्याकरण का ऑपरेशन कराया गया। उक्त मामले में जयकरण ने सीतामढ़ी जिला अधिकारी को मेल के जरिए इसकी शिकायत कर मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए न्याय की मांग की है। 

वही जयकरण ने बताया की जब स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में पता किया ऐसा कैसे हो गया कि बंध्याकरण के वक्त जब उसकी पत्नी 3 माह की गर्भवती थी। उक्त बातें जांच में क्यों नहीं आई। स्थानीय पीएचसी पहुंचने पर जयकरण को किसी ने कुछ भी जानकारी देने से इनकार कर दिया। यहां तक कि चिकित्सक के बारे में भी किसी ने बताने से इनकार किया। बता दें कि जहां एक तरफ पत्नी परेशान है वही पति भी परेशान है। स्थानीय बताते हैं कि उसके पति बेरोजगार हैं। गांव में ही रह कर खेती बाड़ी का काम करता हैं। परिवार का भरण पोषण किसी तरह करता है।

जिले में बंध्याकरण में लापरवाही का यह कोई मामला पहला नहीं है। इससे पूर्व सदर अस्पताल, बोखरा पीएचसी में भी पूर्व में भी अपने लापरवाही पूर्व कार्यशैली को लेकर सुर्खियों में रहा है। इससे पूर्व बोखरा पीएससी में 24 दिसंबर 2021 को जननी एजेंसी के द्वारा आयोजित बंध्याकरण शिविर में मुजफ्फरपुर जिले के औराई थाना क्षेत्र के अतरार निवासी वीरेंद्र की पत्नी रेखा देवी का बंध्याकरण ऑपरेशन कराए दवा दी गई थी। जिसमें एजेंसी का लाइसेंस कैंसिल कर दिया गया था। जिसके बाद दूसरा मामला सदर अस्पताल में सामने आया था। 3 दिसंबर 2021 को बंध्याकरण का ऑपरेशन कराने के बथनाहा थाना क्षेत्र के निवासी अनीता देवी गर्भवती हो गई थी।

सीतामढ़ी से अविनाश की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News