कोर्ट में महिला गवाह बोली- 'हुजूर मैं जिंदा हूं... मरी नहीं हूं...'चर्चित राजदेव रंजन हत्याकांड में CBI ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था

कोर्ट में महिला गवाह बोली- 'हुजूर मैं जिंदा हूं... मरी नहीं हूं...'चर्चित राजदेव रंजन हत्याकांड में CBI ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था

मुजफ्फरपुर. सिविल कोर्ट में उस समय वकील-जज और वहां उपस्थित लोग भौचक्का हो गये, जब एक वृद्ध महिला ने कोर्ट में जज से कहा- 'हुजूर मैं जिंदा हूं... मरी नहीं हूं... मुझे सीबीआई ने मृत घोषित कर दिया है।' यह सुनते ही कोर्ट ने सीबीआई से स्पष्टीकरण मांगा है।

दरअसल, महिला सिवान के चर्चित पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड की गवाह है। इस हत्याकांड की जांच सीबीआई कर रहा है। इसमें सीबीआई ने महिला को मृत घोषित कर कोर्ट में रिपोर्ट सौंप दी है। इसकी जानकारी मिलने पर महिला नाराज हो गयी। इसके बाद उन्होंने आज स्वयं मुजफ्फरपुर सिविल कोर्ट में पहुंचकर जज से कहा, 'हुजूर मैं जिंदा हूं... मरी नहीं हूं... मुझे सीबीआई ने मृत घोषित कर दिया है।' इसके बाद कोर्ट ने इसको लेकर सीबीआई से स्पष्टीकरण मांगा है।

कोर्ट में परिवादी के वकील शरद कुमार ने कहा मामले में सीबीआई की टीम की बड़ी लापरवाही है। एक चर्चित हत्याकांड के गवाह को मृत घोषित कर दिया गया है। इस पर कोर्ट ने मामले को संज्ञान में लेते हुए सीबीआई के खिलाफ शो कॉज नोटिस जारी किया है।

Find Us on Facebook

Trending News