पटना में जमीन दिलाने के नाम पर बड़े लोगों को बनाते थे अपना शिकार, पुलिस ने मास्टर माइंड समेत 4 को दबोचा

पटना में जमीन दिलाने के नाम पर बड़े लोगों को बनाते थे अपना शिकार, पुलिस ने मास्टर माइंड समेत 4 को दबोचा

PATNA : पटनापुलिस की बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने वाटर प्लांट व्यवसायी के साथ लूटपाट करने वाले 4 अपराधियों को धर दबोचा है। जिसमें गिरोह का मास्टर माइंड रुस्तम अली भी शामिल है। 

इस बात की जानकारी देते हुए पटना एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि जबरन एटीएम का पिन कोड पूछकर रुपये निकालने वाले गिरोह के चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। ये लोग वाटर प्लांट के लिए भूमि दिखाने का झांसा देकर भी ये अपराधी लूटपाट करते थे। 

उन्होंने बताया कि पकड़े गए लुटेरों में मोतिहारी का रुस्तम अली गिरोह का मास्टरमाइंड है। इसी गिरोह के पकड़े गए तीन अन्य सदस्यों में मोतिहारी का ही धर्मेंद्र कुमार, सीवान का मृत्युजंय राय तथा सारण के बनियापुर का अंकित कुमार शामिल है।

एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि नालंदा के चंडी थाना क्षेत्र स्थित गौरी गांव निवासी पंकज कुमार का पटना के रामकृष्णानगर थाने के खेमनीचक में वाटर प्लांट है। 12 जुलाई को चार युवक उनके पास आए और वाटर प्लांट के लिए रूपसपुर क्षेत्र में भूमि दिखाने का झांसा दिया। राजी होने पर चारों युवक अपनी स्कॉर्पियो में बैठाकर पंकज को रुपसपुर स्थित एक सूनसान स्थान पर ले गए। इसके बाद हथियार के बल पर जेब से 10 हजार रुपये लूट लिए। 

यही नहीं, कनपटी पर पिस्टल सटाकर जान से मारने की धमकी देते हुए पर्स से दो एटीएम कार्ड ले लिये। पिन कोड पूछने के बाद खाते से 53 हजार रुपये निकाल लिये। इस मामले में रूपसपुर थाने में केस दर्ज कराया गया था। पकड़े गए लुटेरों के कब्जे से पुलिस का स्टीकर, नंबर फ्लेट भी मिला है, फर्जी पहचान पत्र व वाहन निबंधन संख्या का स्टीकर भी बरामद हुआ है। 

एसएसपी ने बताया कि पुलिस व लोगों को चकमा देने के लिए से लुटेरे पुलिस स्टीकर, फर्जी नंबर प्लेट का इस्तेमाल करते थे। इस गिरोह ने लूट की ऐसी कई घटनाओं को अंजाम दिया, लेकिन पुलिस के हत्थे पहली बार चढ़े हैं।

Find Us on Facebook

Trending News