रूपेश मर्डर केस में पटना SSP की थ्योरी पर DGP की मुहर, कहा- उससे अधिक कुछ नहीं कहना

रूपेश मर्डर केस में पटना  SSP की थ्योरी पर DGP की मुहर, कहा- उससे अधिक कुछ नहीं कहना

PATNA: रूपेश हत्याकांड के खुलासे पर तरह-तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। विपक्ष ने सीधे तौर पर मामले की लीपापोती करने और किसी को बलि का बकरा बनाये जाने का आरोप लगाया है। रूपेश के परिवार वाले भी पुलिस की थ्योरी को खारिज कर रहे। रूपेश सिंह की पत्नी ने भी पुलिस के रोडरेज वाली बात को सिरे से खारिज कर दिया है और कहा है कि किसी को बचाने की साजिश लगती है। पत्नी नीतू सिंह ने पुलिस से पूछा है कि रोडरेज वाला सीसीटीवी फुटेज कहां है ? इधर बिहार के डीजीपी ने पटना एसएसपी की थ्योरी पर मुहर लगा दी है।

पटना एसएसपी की थ्योरी पर डीजीपी ने लगाई मुहर

बिहार के डीजीपी एसके सिंघल ने रूपेश मर्डर केस के खुलासे पर कहा है कि बिहार पुलिस के सामने एक से बढ़कर एक केस आये हैं और उन सब केसों को सॉल्व किया गया है। रूपेश मर्डर केस में पटना एसएसपी के  रोडरेज वाले खुलासे पर डीजीपी ने कहा है कि एसएसपी ने केस की हर बिंदूओं पर जांच की है उसकी जानकारी दी है। पटना एसएसपी ने जो जानकारी दी है उससे अधिक हमें कुछ नहीं कहना है। जितनी बातें शेयर की जाने वाली थी वो सब बताई गई। उससे अधिक नहीं बताई जा सकती। 

रामकृपाल यादव की मांग-सीबीआई से हो जांच

एक तरफ पुलिस अपनी थ्योरी को पूरी तरह से सटीक बता बता रही है वहीं सत्ता पक्ष के नेता ही अब पुलिस की थ्योरी को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं. अब तो बीजेपी के नेता भी पुलिस पर सवाल उठा रहे हैं। गुरूवार को सत्ता पक्ष और विपक्ष के कई नेताओं ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर रूपेश सिंह हत्याकांड के खुलासे पर सवाल उठाया और पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की। अब पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के पाटलिपुत्र से सांसद रामकृपाल यादव ने भी कहा है कि अगर रूपेश के परिवार वाले पुलिस की जांच से खुश नहीं है और सीबीआई से जांच कराने की मांग करते हैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को संज्ञान लेना चाहिए और रूपेश सिंह मर्डर केस की सीबीआई जांच की सिफारिश करनी चाहिए। बीजेपी सांसद ने आगे कहा कि हालांकि पटना पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा किया है। उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि रूपेश मामले में राजनीति की जा रही है। 

12 जनवरी को हुई थी हत्या

बता दें, 12 जनवरी को पटना के पुनाईचक में अपराधियों ने इंडिगो एयरलाइन्स के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह हत्या कर दी थी। हत्या के बाद पूरे बिहार में कोहराम मच गया था।22 दिनों के बाद 3 फऱवरी को पटना पुलिस ने मर्डर केस के खुलासे का दावा किया। पटना एसएसपी ने बताया कि रोडरेज में रूपेश सिंह की हत्या की गई। एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ने बताया कि नवंबर महीने में लोजपा दफ्तर के समीप रोडरेज की घटना हुई थी। उसी में रितुराज नामक शख्स ने सहयोगियों के साथ मिलकर हत्या कर दी। हालांकि पुलिस की इस थ्योरी पर सहसा किसी को विश्वास नहीं हो रहा है। रूपेश की पत्नी ने भी पुलिस पर मामले को उलझाने और किसी को बचाने का आरोप लगाई है।



 

Find Us on Facebook

Trending News