रामविलास पासवान की यह है अहमियत, 6 सीट के बावजूद जेडीयू के बराबर एनडीए में मिली हिस्सेदारी

रामविलास पासवान की यह है अहमियत, 6 सीट के बावजूद जेडीयू के बराबर एनडीए में मिली हिस्सेदारी

PATNA : लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान के मोदी के दूसरे कार्यकाल की सरकार में भी जगह मिली है। वे एकबार फिर मंत्री बने है। मंत्री पद की शपथ लेने के साथ ही उन्होंने अपनी इस बात को साबित कर दिया है कि वे जिस गठबंधन के साथ होते हैं उसी की सरकार बनती है। और शायद यही वजह है कि 16 सीट जीतकर आने वाले जेडीयू के बराबर ही उन्हें अहमियत दी गई। बता दें मोदी मंत्रिमंडल में जेडीयू को भी 1 ही सीट दी गई थी जिसे स्वीकार नहीं किया गया। 

वर्तमान समय में रामविलास पासवान किसी सदन के सदस्य नहीं होने के बावजूद रामविलास पासवान मोदी सरकार में मंत्री बने है। सरकार-दर-सरकार रामविलास पासवान मंत्री पद पर काबिज रहे है। सरकार किसी की हो, एनडीए की, यूपीए की या फिर तीसरे मोर्चे की, रामविलास पासवान की अहमियत बनी रही है। खुद को साबित करने में हर बार वह सफल रहे। नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल में गुजरात में हुए गोधरा कांड के बाद अटल बिहारी वाजपेयी सरकार से इस्तीफा देने वाले पासवान ने प्रधाननमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में भी अपनी अहमियत साबित कर दी। .

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद, श्री पासवान को राजनीति का मौसम वैज्ञानिक कहते हैं। श्री पासवान भी खुद कहते हैं कि वह जिस गठबंधन में रहते हैं सरकार उसकी ही बनती है। ऐसा उन्होंने साबित भी किया है। यही कारण है कि केन्द्र की नई सरकार में छह सांसद वाली लोजपा को एक कैबिनेट मंत्री का पद मिल गया। 16 सांसदों वाले जदयू को भी उनके बराबर ही हिस्सेदारी देने का प्रस्ताव मिला। यह अलग बात है कि जदयू ने सरकार में जाने से इनकार कर दिया। 

Find Us on Facebook

Trending News