वैशाली में शराबबंदी की चौकीदारों ने खोल दी पोल, डीएम एसपी के सामने रख दी शराब तस्करों की पूरी लिस्ट

वैशाली में शराबबंदी की चौकीदारों ने खोल दी पोल, डीएम एसपी के सामने रख दी शराब तस्करों की पूरी लिस्ट

VAISHALI : बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है। इसके बावजूद राज्य में शराब का अवैध कारोबार हो रहा है। इसी कड़ी में वैशाली डीएम यशपाल मीना और एसपी मनीष ने शराब से मौत के बाद एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई। हाई लेवल मीटिंग में जिले के तमाम चौकीदार शामिल हुए। जिसके बाद शराब बंदी कानून को लेकर डीएम और एसपी ने चौकीदार को पाठ पढ़ाया। 


उसके बाद चौकीदार से अपने अपने क्षेत्र की शराब तस्करों की लिस्ट मांगी गई। जिसके बाद शराब बंदी कानून की चौकीदारों ने पोल खोल कर रख दी। बैठक में 509 चौकीदार शामिल हुए और करीब सभी ने 5 से 10 शराब तस्कर के एक्टिव होने की सूची वैशाली एसपी और डीएम को सौंप दिया। जिसके बाद यह सवाल खड़ा होता है कि जिले में किस तरीके से शराबबंदी है और शराबबंदी को लेकर जिला प्रशासन कितना सख्त है। 

इस मामले पर जब चौकीदार से बात किया गया तो उन्होंने दबे आवाज में कहा कि हमारे यहां शराब तस्कर बहुत ही एक्टिव होकर शराब बनाते भी है। बाहर से लाकर शराब बेचते भी हैं। तब अनुमान लगाया जा सकता है कि जिले में लगातार जहरीली शराब से मौत का कारण क्या है। जब इस मामले पर चौकीदार से पूछा गया कि थाना अध्यक्ष को इस मामले में बताया जाता है या नहीं तो उन्होंने कहा कि थाना अध्यक्ष को हम बताते हैं और गिरफ्तारी भी होती है। लेकिन जब वह जेल से छूट कर आते हैं तब वही काम फिर से शुरू कर देते हैं। 

बंद कमरे में चौकीदारों का कहना है कि हम लोग शराब तस्कर से डरते हैं और उसका विरोध नहीं कर पाते हैं। क्योंकि हम लोग के पास कोई ऐसा हथियार या व्यवस्था नहीं है। जिससे हम लोग शराब तस्कर से लड़ाई लड़ सके। इस मामले पर वैशाली डीएम यशपाल मीणा ने बताया कि आज शराबबंदी और बालू तस्करी को लेकर सभी चौकीदार के साथ बैठक की गई है। उन्हें सख्त हिदायत दी गई है कि अपने यहां की सूचना जिला प्रशासन और थाना अध्यक्ष को दें। उनका नाम गोपनीय रखा जाएगा और पुलिस पर कार्रवाई करेगी। 

वैशाली से राजकुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News