अमहारा कंस्ट्रक्शन के ठिकानों पर आयकर की रेड, मिली सवा अरब से भी ज्यादा की बेनामी संपत्ति

अमहारा कंस्ट्रक्शन के ठिकानों पर आयकर की रेड, मिली सवा अरब से भी ज्यादा की बेनामी संपत्ति

PATNA : अमहारा कंस्ट्रक्शन और राजधानी पटना के बड़े ठेकेदारों में शुमार राकेश सिंह के 22 ठिकानों पर बुधवार को आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की। यह छापेमारी राजधानी पटना  के चार ठिकानों सहित देवघर, कोलकात्ता, मुंबई और पुणे में की गई। बताया गया कि इस छापेमारी में राकेश सिंह के पास 130 करोड़ से भी अधिक की बेनामी संपत्ति की जानकारी मिली है। इनके अलावा चार करोड़ रुपए नगदी सिर्फ राजेंद्र नगर स्थित आवास से मिले हैं। इस पूरी कार्रवाई की निगरानी पटना स्थित आयकर अन्वेषण कार्यालय से की जा रही थी।

बताया जा रहा है कि राजधानी पटना में राकेश सिंह के बिहटा के अमहारा स्थित पैतृक आवास सहित पटना स्थित बाजार समिति, एग्जीबिशन रोड और राजेंद्र नगर स्थित कार्यालयों पर आयकर की कार्रवाई देर रात तक जारी रही। इस छापेमारी में आयकर अधिकारियों ने बड़ी मात्रा में अवैध लेन-देन के संदिग्ध दस्तावेज भी जब्त किए हैं। छापेमारी में शामिल अधिकारियों को आशंका है कि इन्हें खंगालने से कर वंचना से लेकर गड़बड़ी की राशि में कई गुने का इजाफा हो सकता है। साथ ही, बड़े पैमाने पर जीएसटी छुपाने का भी खुलासा हो सकता है।आयकर अधिकारी इन्हें दूसरे विभाग के अधिकारियों के साथ भी साझा करेंगे। कर्मचारियों से पूछताछ में भी कई राज मिले हैं। इसके आधार पर आयकर की टीम अगली कार्रवाई की तैयारी कर रही है


सुबह से देर रात तक चलती रही छापेमारी की कार्रवाई

आयकर अन्वेषण की टीम ने बुधवार की अलसुबह राकेश सिंह के बिहटा के अमहारा स्थित पैतृक आवास पर धावा बोला। सुबह सात बजे वहां मौजूद लोगों से ठेकेदार राकेश कुमार सिंह की चल तथा अचल संपत्ति का ब्योरा लिया गया। राकेश सिंह की गैरमौजूदगी में उनकी मां एवं घर के स्टाफ से पूछताछ की।इसके बाद दोपहर तक पटना और छापेमारी वाले बाकी शहरों के ठिकानों पर आयकर अधिकारियों ने पहुंचकर पूरे परिसर को अपने कब्जे में ले लिया और कर्मचारियों से पूछताछ तथा वहां मौजूद कागजातों को खंगालने की प्रक्रिया शुरू की। देर रात तक कार्रवाई चलती रही।

50 स्थानों पर जमीन और फ्लैट के कागजात मिले

राजेंद्र नगर स्थित आवास पर छापेमारी में घंटों की तलाशी के बाद यहां से 50 स्थानों पर जमीन और फ्लैट खरीद के कागजात जब्त किए हैं। करोड़ों की ये जमीनें पटना, बिहटा, अमहारा, नेउरा, पुणे, नोएडा, गाजियाबाद, कोलकाता, देवघर और मुंबई समेत दूसरे स्थानों पर खरीदी गई हैं। इसके अलावा शहरों के पॉश इलाकों में स्थित ये जमीनें बड़े भूखंडों में हैं। कई जगह फ्लैट खरीदकर भी जीएसटी वंचना की गई है। पोस्ट ऑफिस और बैंक में जमा करोड़ों रुपए के स्रोत भी रडार पर हैं। बैंक के पांच लॉकरों को भी सीज किया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News