मोतिहारी में महागठबंधन उम्मीदवार के दफ्तर पर छापेमारी के बाद बढ़ा विवाद, प्रशासन पर लगे गम्भीर आरोप

मोतिहारी में महागठबंधन उम्मीदवार के दफ्तर पर छापेमारी के बाद बढ़ा विवाद, प्रशासन पर लगे गम्भीर आरोप

MOTIHARI : बीती रात जिले में RLSP उम्मीदवार आकाश सिंह के कार्यालय में छापेमारी के बाद विवाद बढ़ गया। प्रशासन की कार्रवाई को एकतरफा बताते हुए राजद कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया।

दरअसल लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के प्रचार के समाप्त होने के बाद मोतिहारी में बीती रात वाईएस होटल में छापेमारी की, हांलाकि जांच के दौरान होटल से पुलिस को कोई भी आपत्तिजनक समान नहीं मिला। 

बता दें कि पूरे वाईएस होटल को आरएलएसपी प्रत्याशी आकास सिंह ने किराए पर ले रखा है और यहीं अपना चुनाव कार्यालय बनाया है। 

इधर प्रशासन द्वारा की गई इस छापेमारी की रालोसपा प्रत्याशी आकाश सिंह ने कहा कि सत्ता के इशारे पर विपक्षी को परेशान करने की साजिस करार दिया। उन्होंने कहा कि विपक्ष के खिलाफ सरकार के इशारे पर एकपक्षीय कार्रवाई कर परेशान किया जा रहा है।

आकाश सिंह ने कहा कि बीजेपी के खिलाफ चुनाव में खड़े प्रत्याशियों को परेशान करने और उन्हें अपमानित करने की कोशिश की जा रही है। इसमें सरकारी तंत्र का इस्तेमाल किया जा रहा है। चुनाव में जनता इसका जबाव देगी।  

वहीं अनुमंडल पदाधिकारी ने बताया कि चुनाव को देखते हे नगर के सभी होटलों की तलाशी हो रही है। इसमें किसी विशेष दल या व्यक्ति को जबरन परेशान करने जैसी कोई बात नहीं है। 

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट

 

 

Find Us on Facebook

Trending News