स्वतंत्रता दिवस और जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद देशभर के हवाई अड्डों की बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था

स्वतंत्रता दिवस और जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद देशभर के हवाई अड्डों की बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था

PATNA : आगामी 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस और जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद सुरक्षा कारणोंको देखते हुए हवाई अड्डों की सुरक्षा बढ़ाई जा रही है और एहतियातन कुछ बदलाव भी किए गए हैं। आने वाले कुछ दिनों में सिर्फ यात्रियों को ही एयरपोर्ट के अंदर जाने की इजाजत होगी। यात्रियों के अलावा कोई भी आगंतुक हवाईअड्डे पर नहीं जा सकेगा। 

यह रोक 10 से 20 अगस्त के बीचजारी रह सकती है। इस विजिटर्स पास की बिक्री भी बंद रहेगी।यात्रियों को भी एयरपोर्ट समय से पहले पहुंचने के निर्देशदिए गए हैं।

इस महीने के अंत तक यात्रियों को एयरपोर्ट समय से पहले पहुंचना होगा ताकि ठीक से सुरक्षा जांच ठीक से हो सके और एयरपोर्ट आ रहे वाहनों पर लगातार नजर रखी जा सके। सेकेंडरी लैजर प्वाइंट चैक को अब आवश्यक बना दिया गया। बिना तलाशी के कोई भी यात्री विमान में प्रवेश नहीं कर सकेगा।

देश के सबसे व्यस्त हवाईअड्डों में से एक इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों उड़ानों के लिए लोगों को 3 से 4 घंटे पहले पहुंचने के लिए कहा गया है। सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है और उन्हें आगाह किया गया है कि जम्मू कश्मीर में धारा 370 और पुनर्गठन से जुड़े बदलाव होने के बाद आतंकवादी हमले की फिराक में हो सकते हैं।

वहीं राज्यों और हवाईअड्डोंको फ्लाइट ट्रेनिंग संस्थान सहित उड्डयन क्षेत्र से जुड़ी सभी जगहों पर सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। हवाई्अड्डे के टर्मिनलसे एक किलोमीटर पहले बने चेकपोस्टों पर भी वाहनों की अनियमित तलाशी शुरु की जा रही है। चेकपोस्टों पर तैनात सुरक्षा अधिकारियों को कम से कम 10 फीसदी वाहनों की अनियमित तौर पर तलाशी लेने के लिए कहा गया है।

हर साल 15 अगस्त से पहले हवाई यात्रा से जुड़ी जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी जाती है लेकिन जम्मू कश्मीर की गतिविधियों को देखते हुएइस साल आतंकी हमले की आशंका के चलते सुरक्षा और भी ज्यादा रखी गई है।

देवांशु प्रभात की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News