कोरोना के खिलाफ भारत के वैज्ञानिकों को बड़ी सफलता, दो नए वैक्सीन और एक पिल का अब हो सकेगा इमरजेंसी उपयोग

कोरोना के खिलाफ भारत के वैज्ञानिकों को बड़ी सफलता, दो नए वैक्सीन और एक पिल का अब हो सकेगा इमरजेंसी उपयोग

 नई दिल्ली. ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत में कोरोना से लड़ने के लिए कुछ नए शोधों को उपयोग की अनुमति के योग्य माना है. कोरोना से लड़ाई यानी वैक्सीनेशन के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने दो वैक्सीन कोर्बेवैक्स, कोवोवैक्स और एंटी-वायरल ड्रग मोलनुपिराविर के इमरजेंसी यूज की मंजूरी दी है. स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इस फैसले पर देश को बधाई दी है. उन्होंने बढाई देते हुए स्पष्ट किया है कि इसका उपयोग आपातकालीन सेवाओं में किया जाए. 

सीरम इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया की एक वैक्सीन (कोवोवैक्स), बायोलॉजिकल ई की वैक्सीन (कोरबेवैक्स) और कोविड-19 के खिलाफ लड़ने वाली एंटी-वायरल पिल मोलनुपिराविर के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है. भारत के ड्रग रेगुलेटर के अंतर्गत आने वाली सबजेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (एसईसी) ने सीरम इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया सहित अन्य के तीनों उत्पाद को इमरजेंसी यूज की मंजूरी दी है. इनके इमरजेंसी के वक्त इस्तेमाल करने संबंधी एक सिफारिश ड्रग कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया यानी डीसीजीआई को भेज दी गई है. अब इस पर डीसीजीआई जल्द ही कोई अहम फैसला लेगा. 

विशेषज्ञों की मानें तो इन तीनों नए उत्पादों को मंजूरी मिलने से देश में कोरोना के खतरे को कम करने में बड़ी सफलता मिल सकेगी. खासकर कोरोना का अगर फिर से खतरनाक रूप आता है और देश में मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति आती है तो उस हाल में आपातकाल में इनके उत्पाद से बीमारों को बड़ा लाभ मिल सकता है. हालाँकि यह कोरोना संक्रमण को रोकने और किस प्रकार से बीमार पर असर डालेगा इस पर फ़िलहाल ज्यादा स्पष्टता नहीं है. इन दिनों देश में कोरोना के साथ ही कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे से लोग भयभीत हैं. अगर आने वाले दिनों में नए वैरिएंट का खतरा बढ़ता है तो उस स्थिति में कोरोना से लड़ने के तीनों नए हथियार कारगर साबित हो सकते हैं.

भारत में ओमिक्रॉन के कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 670 हो गई. सोमवार को गोवा और मणिपुर में भी ओमिक्रॉन ने दस्तक दे दी है. अब तक देश 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ओमिक्रॉन फैल गया है. इस बीच कोरोना का खतरा भी इन दिनों कई राज्यों में गहराता नजर आ रहा है. 


Find Us on Facebook

Trending News