सीआईआई के ईस्ट इंडिया सम्मिट में बोले उद्योग मंत्री, कहा बिहार औद्योगिक क्रांति के लिए पूरी तरह बदल चुका है

सीआईआई के ईस्ट इंडिया सम्मिट में बोले उद्योग मंत्री, कहा बिहार औद्योगिक क्रांति के लिए पूरी तरह बदल चुका है

PATNA : बिहार की टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी, इथेनॉल पॉलिसी से भी अच्छी और आकर्षक होगी। बिहार में पूर्वी भारत के औद्योगिक हब बनने की पूरी संभावना हैं। इथेनॉल के बाद अब बिहार में टेक्सटाइल उद्योग की स्थापना के लिए तैयारी तेज है। बिहार औद्योगिक क्रांति के लिए पूरी तरह बदल चुका है। हम दिनों में नहीं बल्कि घंटो में राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए फैसले ले रहे हैं। बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने प्रतिष्ठित उद्योग संगठन सी आई आई द्वारा आयोजित ईस्ट इंडिया सम्मिट में ये बाते कहीं। उन्होंने कहा की अब तक बिहार में जितने उद्योगपति निवेश के लिए आये हैं, उन्होंने बिहार का बदला हुआ रूप देखा है। उन्होंने ईस्ट इंडिया सम्मिट में देश और विदेश से भी जुड़े उद्योगपतियों से कहा, बदले हुए बिहार को देखने के लिए - “एक बार तो आइये बिहार में”। 

उद्योग संगठन सी आई आई ने पूर्वी भारत में वैश्विक निवेश को बढावा देने के लिए ईस्ट इंडिया सम्मिट का आयोजन किया। इसमें एक सत्र बिहार में औद्योगिक निवेश की संभावनाओ पर चर्चा के लिए था। इस सत्र में बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन के साथ  उद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव बृजेश मेहरोत्रा, उद्योग विभाग के निदेशक पंकज दीक्षित, निवेश आयुक्त आर एस श्रीवास्तव मौजूद रहे और इन्होने बड़ी संख्या में जुटे बिहार और बिहार के बाहर के उद्दमियों के साथ राज्य में निवेश की संभावनाओ को लेकर पूरी जानकारी साझा की। ईस्ट इंडिया सम्मिट के बिहार सत्र में उद्योग विभाग की तरफ से प्रस्तावित टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी को लेकर प्रस्तुतीकरण भी दिया गया। 

पटना के मौर्या होटल में आयोजित सी आई आई के ईस्ट इंडिया सम्मिट में विंडसर होटल के निदेशक नरेन्द्र कुमार, माइक्रो मैक्स के संस्थापक राजेश अग्रवाल समेत उद्योग जगत से कई बड़े नाम मौजूद रहे। ईस्ट इंडिया सम्मिट में जुटे उद्योग जगत के लोगो को संबोधित करते हुए बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार की इथेनॉल पॉलिसी बेहद सफल रही और कुछ दिक्कतों को दूर करने में हम कामयाब हुए तो जल्द बिहार के अलग अलग औद्योगिक क्षेत्रों में स्थापित होने जा रही 29 इथेनॉल उत्पादन इकाइयों का एक बटन दबाकर शुभारम्भ करेंगे। उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर इथेनॉल आपूर्ति के कोटे की दिक्कतें दूर करने के लिए मेरा बार बार दिल्ली का दौरा लग रहा है, लेकिन मुझे पूरा यकीन है कि बिहार को मिले इथेनॉल के कम कोटे की दिक्कतें भी दूर होंगीं और औद्योगिक बिहार का सपना भी पूरा होगा। उन्होंने कहा कि बिहार में इथेनॉल और अन्य उद्योग की स्थापना के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पूरा सहयोग और मार्गदर्शन मिल रहा है और केंद्र सरकार से भी सहयोग की कोई कमी नहीं है।

सी आई आई सम्मिट में उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार को लेकर उद्योगपतियों की धारणा बदली है, इसका प्रमाण इसी से मिलता है, कि सी आई आई जैसे संगठन निवेश की संभावनाओं पर परिचर्चा कर रहे हैं, इससे पहले भी कई उद्योग संगठनों ने बिहार को लेकर सकारात्मक पहल की है। मेरी निरंतर कोशिश होगी, उद्योग जगत का ये विश्वास राज्य में नया निवेश लाये और यहाँ भरपूर उद्योगों की स्थापना हो।

Find Us on Facebook

Trending News