किशोर न्याय परिषद की पहलः पर्यवेक्षण गृह के बच्चे बना रहे नटखट अगरबत्ती, इस दीवाली घरों में बिखरेगी खुशबू

किशोर न्याय परिषद की पहलः पर्यवेक्षण गृह के बच्चे बना रहे नटखट अगरबत्ती, इस दीवाली घरों में बिखरेगी खुशबू

NALANDA: अक्सर अपने फैसले से चर्चित रहने वाले किशोर न्याय परिषद के प्रधान दंडाधिकारी मानवेन्द्र मिश्र के पहल से इस दीपावली लोगों के घरों में पर्यवेक्षण गृह के आवासित बच्चों के द्वारा बनाये गए अगरबत्ती की खुशबू महकेगी । 

जज मानवेन्द्र मिश्र पर्यवेक्षण गृह जाकर बच्चों द्वारा बनाए जा रहे अगरबत्ती कार्य का जायजा लिया । इस मौके पर उन्होंने कहा कि कौशल विकास के तहत हमारा उद्देश्य है कि यहां रहने वाले बच्चे उन सब चीजों का भी प्रशिक्षण ले जिससे वे तो आत्मनिर्भर बन ही सकते है । साथ  साथ उनसे जुड़कर और लोग भी रोजगार को प्राप्त कर सकें । 

प्रधान दंडाधिकारी मानवेन्द्र मिश्र 

इसी के तहत इस प्रोजेक्ट को लगाने के लिए बिहारशरीफ के शिवा ऑर्थो सेंटर के संचालक डॉ सुनील कुमार द्वारा 1 लाख का आर्थिक मदद किया गया है । साथ ही शिक्षाविद अविनाश गिरी द्वारा पैकेजिंग का खर्च उठाया गया है । जबकि मार्केटिंग से लेकर अन्य तरह की सहायता आइएनएटीएसजी पटना के संचालक राकेश कुमार द्वारा किया जाएगा । 

पूरे सूबे का पहला यह पर्यवेक्षण गृह है जहां के बच्चों को इस तरह का प्रशिक्षण दिया जा रहा है । इसके पूर्व पिछले साल यहां के बच्चों ने दीपावली में मोमबती का निर्माण किया था । जो इस साल भी कर रहे हैं । इस पर्यवेक्षण गृह में 70 बच्चे हैं। उनमें से जो बच्चे प्रशिक्षण लेना चाहते हैं। उन्हें दिया जाएगा । साथ ही यहां डिजिटल लर्निग सिस्टम ई-क्लास की भी शुरुआत की जा रही है । जिसके माध्यम से यहां के बच्चों को जो भी शिक्षक अगर पढ़ाना चाहेगें वे कहीं से इस सिस्टम से जुड़ कर पढ़ा सकेगें । इस मौके पर प्रभारी पंकज कुमार, राकेश कुमार, डॉ सुनील कुमार, अविनाश गिरी मौजूद थे ।


नालंदा से राज की रिपोर्ट।


Find Us on Facebook

Trending News