राजद बैठक की इनसाईड स्टोरी,हारे हुए उम्मीदवारों ने दिल्ली बेस्ड नेता पर जमकर निकाली भड़ास

राजद बैठक की इनसाईड स्टोरी,हारे हुए उम्मीदवारों ने दिल्ली बेस्ड नेता पर जमकर निकाली भड़ास

पटनाः लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राजद ने राबड़ी आवास पर समीक्षा बैठक बुलाई थी। राबड़ी और तेजस्वी यादव की अगुआई में आयोजित बैठक में 19 में से अधिकांश उम्मीदवारों ने भाग लिया।

खबर है कि पार्टी की समीक्षा बैठक में राजद नेताओं ने दिल्ली बेस्ड नेता पर जमकर अपनी भड़ास निकाली है ।बताया जाता है कि हारे हुए उम्मीदवारों ने बैठक से गायब रहने वाले एक दिल्ली बेस्ड नेता पर गंभीर सवाल उठाए हैं। लोकसभा चुनाव में हारे हुए कई उम्मीदवारों ने बैटक में सवाल उठाए हैं कि लोकसभा चुनाव के दौरान जो लोग सलाह दे रहे थे वे आज कहां हैं? खबर है कि कई नेताओं ने पार्टी नेतृत्व के समक्ष यह सवाल उठाया और कहा कि आज की बैठक में दिल्ली बेस्ड नेता को रहना चाहिए था। सबसे पहले तो उन्हें हार की जिम्मेवारी लेनी चाहिए। 

लोकसभा चुनाव में राजद के उम्मीदवार रहे कई नेताओं ने यह भी सवाल उठाया कि महागठबंधन की सहयोगी दलों का भरपूर सहयोग नहीं मिल पाया। सहयोगी दल के नेता तो राजद के साथ आए लेकिन उनके वोटर उनके समाज के वोटर साथ नहीं आए षइस वजह से भी नुकसान हुआ है। खबर है कि कई उम्मीदवारों ने तो यहां तक कहा कि भरपूर सहयोग मिलता तो इस लहर में भी हमारी स्थिति इतनी खराब नहीं होती।

आपको बता दें कि मीटिंग शुरू होने से पहले तेजप्रताप यादव लोकसभा चुनाव में हुई पार्टी की हार के लिए टिकट बांटने वालों को जिम्मेदार ठहरा दिया था। तेजप्रताप यादव ने मंगलवार की पार्टी की समीक्षा बैठक में शामिल तो नहीं हुए लेकिन अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को पत्र लिखकर मांग की है कि हार की जिम्मेदारी उन्हें लेनी चाहिए जिन्होंने टिकट बांटे हैं। साथ ही तेजप्रताप ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के उम्मीदवारों को भी इसके लिए जिम्मेदार बताया है। तेजप्रताप यादव ने अपने पत्र में लिखा था कि मैंने हमेशा आपराधिक प्रवृति के लोगों एवं परिवार को तोड़ने वालों के विरुद्ध आवाज उठाई लेकिन उनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया गया।तेजप्रताप ने तेजस्वी को संबोधित करते हुए लिखा कि मैंने बार बार आपको इर्द गिर्द के लोगों से सावधान रहने को बोला। उन्होंने आगे कहा कि मैंने जो भी मांग की और पार्टी हित में सलाह दी लेकिन मेरी एक न सुनी गई।

तेजप्रताप के पत्र को तेजस्वी यादव पर हमले के रुप में माना जा रहा है। अपने पत्र में तेजप्रताप ने साफ कहा है कि पार्टी की हार के लिए टिकट बांटने वाले जिम्मेदार हैं। माना जा रहा है कि उनका इशारा तेजस्वी यादव की ओर है।

Find Us on Facebook

Trending News