पढाई के बजाय छात्रों से कराई गयी सोखता की सफाई, उपायुक्त ने दिए जांच के आदेश

पढाई के बजाय छात्रों से कराई गयी सोखता की सफाई, उपायुक्त ने दिए जांच के आदेश

JAMSHEDPUR : सरायकेला जिला के गम्हरिया प्रखंड के आसनबनी स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक मो. हसन अंसारी द्वारा स्कूली बच्चों से स्कूल में बने सोखता की सफाई कराए जाने का मामला प्रकाश में आया है. इसकी सूचना मिलते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए. उन्होंने तत्काल पूरे मामले की सूचना गम्हरिया 20 सूत्री अध्यक्ष विजय महतो को दी. 

मामले की सूचना पाकर विजय महतो ग्रामीणों के साथ विद्यालय पहुंचे मामले को सही पाया. उन्होंने देखा की छोटे- छोटे स्कूली बच्चों से विद्यालय में बने सोखते की सफाई कराई जा रही है. कड़ी धूप में भूखे प्यासे बच्चों को मजबूरन शिक्षक के डर से काम करना पड़ रहा है. ग्रामीणों ने इसका पुरजोर विरोध किया और इसकी शिकायत लेकर सरायकेला उपायुक्त के पास पहुंचे. 

उपायुक्त ने इस घटना की जांच का निर्देश देते हुए दोषी पाए जाने पर शिक्षक पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही. वैसे प्राचार्य ने इसे एक रूटीन वर्क बताया और कहा कि उनका उद्देश्य बच्चों से काम करवाना नहीं बल्कि स्कूल परिसर में फैली गंदगी को सब के साथ मिलकर साफ करना है. 

हालाँकि स्कूल के प्रधानाध्यापक की इस तरह की हरकत से जनप्रतिनिधियों में नाराजगी है. उन्होंने प्रधानाध्यापक पर कार्रवाई करने की मांग की है. फिलहाल उपायुक्त के जांच रिपोर्ट पर सबकी निगाहें टिकी हुई है. 

जमशेदपुर से संतोष की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News