हथियारों का जखीरा मिलने से खुफिया एजेंसियां हुई सतर्क, तीन एके-47 राइफल के साथ कई असलहे बरामद

हथियारों का जखीरा मिलने से खुफिया एजेंसियां हुई सतर्क, तीन एके-47 राइफल के साथ कई असलहे बरामद

DESK. ख़ुफ़िया एजेंसियों की सतर्कता हथियारों का जखीरा मिलने के बाद से बढ़ गई है. महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में हरिहरेश्वर तट के पास गुरुवार को समुद्र में एक संदिग्ध नाव मिली। नाव में कोई आदमी नहीं था। नाव की जांच की गई तो उसमें हथियारों को जखीरा मिला। एक बॉक्स में तीन एके-47 राइफल और गोलियां रखी थी। इसके साथ ही नाव से विस्फोटक भी मिले हैं। NIA की तीन सदस्यीय टीम जांच कर रही है।

हथियारों से भरी नाव मिलने के बाद पुलिस ने जिले में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। मौके पर जिला पुलिस मौजूद है। रायगढ़ के एसपी अशोक धुधे ने हरिहरेश्वर बीच के पास नाव में एके 47 मिलने की पुष्टि की। उन्होंने इस बारे में कोई अन्य जानकारी साझा नहीं की कि नाव स्पीड बोट थी या कोई अन्य नाव। उन्होंने कहा कि जांच चल रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नाव ऑस्ट्रेलिया में बनी है। यह जगह मुंबई से करीब 200 किमी और पुणे से 170 किमी दूर है। रायगढ़ में एक और संदिग्ध नाव मिली है। इस नाव में हथियार नहीं मिले हैं। इसमें कुछ लाइफ जैकेट्स मिले हैं। इस नाव पर भी कोई आदमी नहीं था। स्थानीय लोगों ने समुद्र में लावारिस नाव को देखा तो पुलिस को सूचना दी। खबर मिलने पर पुलिस समुद्रतट पर पहुंची और रस्सी की मदद से खींचकर नाव को किनारे पर लाया गया। इसके बाद उसकी जांच की गई। 

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, "यह पता चला है कि इस बोट की मालिक एक ऑस्ट्रेलियन महिला है। उसके पति इस बोट के कप्तान हैं। नाव मस्कट से यूरोप जा रही थी। 26.6.2022 को इस बोट का इंजन खराब हुआ था। बोट पर सवार लोगों ने मदद मांगी थी। कोरियन नेवी की बोट आसपास थी। कोरिया की नेवी ने बोट में सवार सभी लोगों का रेस्क्यू किया और उन्हें ओमान के हवाले कर दिया।"

फडणवीस ने कहा, "हाईटाइड होने के चलते नाव को खींचा नहीं जा सका। हाईटाइड के चलते नाव महाराष्ट्र की ओर आ गई और किनारे पर लगी। भारतीय कोस्टगार्ड ने इस जानकारी की पुष्टि की है। हमने हाईअलर्ट रखा हुआ है। नाकाबंदी भी की गई है। त्योहार का समय है। ऐसे में कोई भी रिस्क नहीं लिया जा सकता। बोट के बरे में पुख्ता जानकारी हमारे पास आ गई है। आतंकी एंगल के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली है। ऐसे मामलों में किसी भी एंगल को जांच से हटाया नहीं जा सकता।"


Find Us on Facebook

Trending News