IPL 2021: CSK ने कायम रखी खिताबी बादशाहत, फाइनल मैच में KKR को 27 रनों से हराया, सभी हुए ‘मेंटर माही’ के मुरीद

IPL 2021: CSK ने कायम रखी खिताबी बादशाहत, फाइनल मैच में KKR को 27 रनों से हराया, सभी हुए ‘मेंटर माही’ के मुरीद

N4N DESK: तारीख 15 अक्टूबर 2021, जगह दुबई का इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम और लगभग हर आईपीएल फैन की अंदाजे को सही साबित करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को हराकर खिताबी भिड़ंत में जीत दर्ज की। इसी के साथ टीम ने चौथी बार आईपीएल ट्रॉफी उठाई। इस टीम ने अबतक के आईपीएल के सफर में कुल 4 बार ट्रॉफी जीती है, और चारों ही बार इसके कप्तान महेंद्र सिंह धोनी रहे हैं। इसमें साल 2010, 2011, 2018 और 2021 शामिल हैं।

इसी के साथ एक बार फिर फैंस सहित BCCI कैप्टन कूल की मुरीद हो गई। महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय क्रिकेट टीम में मेंटरिंग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। दुबई-ओमान में इसी साल होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के मेंटर के रूप में चुना गया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद भारतीय क्रिकेट में यह धोनी की नई शुरुआत मानी जा रही है। इससे पहले अपनी टीम को आईपीएल में चौथी बार जीत दिलाकर उन्होनें साबित कर दिया है कि उनका चुनाव करने में सेलेक्टर्स ने कोई गलती नहीं की है।

शुक्रवार की शाम चेन्नई सुपर किंग्स के लिए बहुत यादगार रही। चेन्नई ने IPL 2021 के फाइनल में कोलकाता नाइट राइडर्स को 27 रनों से हराकर चौथी बार ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। टॉस गंवाकर पहले खेलते हुए चेन्नई ने 192/3 का स्कोर बनाया। टीम के लिए फाफ डुप्लेसिस (86) टॉप स्कोरर रहे। 193 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए KKR 165/9 का स्कोर ही बना सकी और मुकाबला 27 रनों से हरा गई। इस मैच में बतौर T-20 कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपना 300वां मैच खेला। वहीं IPL में अपना 200वां मुकाबला खेल रहे रवींद्र जडेजा ने अपने शानदार प्रदर्शन से सभी को खासा प्रभावित किया। उन्होंने चार ओवर में 37 रन देकर दो विकेट हासिल किए। कार्तिक और शाकिब की विकेट तो उन्होंने लगातार दो गेंदों पर चटकाए। यही मैच का टर्निंग प्वाइंट भी साबित हुआ।

IPL के फाइनल में एक लम्हा ऐसा आया, जब किस्मत के धनी वाले कहे जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी की किस्मत भी धोखा दे गई। दरअसल शुभमन गिल शानदार बैटिंग कर रहे थे। जब 30 रन बनाकर खेल रहे थे, तब उन्होंने एक गगनचुंबी शॉट खेला, लेकिन अचानक गेंद नीचे गिरी और अंबाती रायडू ने कैच पकड़ लिया। इसे आउट ही माना गया लेकिन थोड़े समय में दोनों अंपायर एक-दूसरे के पास आए और कुछ डिस्कस करने लगे। बाद में कैमरे पर देखा गया तो गेंद हवा में तैरते वक्त मैच की कवरेज के लिए लगाए गए स्पाइडर कैम से छू गई थी। अंपायरों ने थोड़ी देर तक आपस में चर्चा की। कुछ नियम-कानून समझे और तय किया इसे डेड बॉल दी जाएगी और शुभमन गिल आउट नहीं माने जाएंगे। 

वहीं CSK के युवा ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ ने इस सीजन में ऑरेंज कैप पर अपना कब्जा जमा लिया है। गायकवाड़ सबसे कम उम्र में ऑरेंज कैप जीतने वाले खिलाड़ी बने। उन्होंने यह रिकॉर्ड 24 साल की उम्र में हासिल किया। उनसे पहले ये कीर्तिमान पंजाब किंग्स के पूर्व सलामी बल्लेबाज शॉन मार्श (25 साल) के नाम पर दर्ज था। इस सीजन ऋतुराज ने 16 मैचों में 45.36 की शानदार औसत के साथ 635 रन बनाए।


Find Us on Facebook

Trending News