IPS विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वारनटीन कैद से किया आजाद, डीजीपी ने दिखाए थे सख्त तेवर

IPS विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वारनटीन कैद से किया आजाद, डीजीपी ने दिखाए थे सख्त तेवर

DESK : सुशांत सिंह मामले की जांच के लिए बिहार से मुंबई आए पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वारनटीन से रिलीज कर दिया है. मालूम हो, बीएमसी के अधिकारियों ने उन्हें मुंबई आने पर जबरन क्वारनटीन कर दिया था.बीएमसी के इस कदम की काफी आलोचना हुई थी. सुप्रीम कोर्ट ने भी अपनी सुनवाई के दौरान कहा था कि इससे गलत संदेश गया है. बिहार के डीजीपी ने भी इसपर नाराजगी जताई थी. गुरुवार को मुंबई आई पटना पुलिस की चार सदस्यीय टीम बिहार लौट गई है. 


पटना आईजी के पत्र को खारिज किए जाने के बाद डजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने सख्त रूख अख्तियार कर लिया था।डीजीपी के आदेश पर एडीजी पुलिस मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने भी बुधवार को बीएमसी को पत्र लिखा था.एडीजी ने बीएमसी के आयुक्त इकबाल सिंह चहल को पत्र लिख कर आईपीएस अधिकारी को क्वारंटीन से मुक्त करने का आग्रह किया था। पुलिस मुख्यालय ने दो पन्नों के पत्र में बीएमसी से पटना के सेंट्रल एसपी विनय तिवारी को क्वारंटीन से मुक्त करने की मांग की थी।. एडीजी हेडक्वार्टर ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी आईपीएस अधिकारी को होम क्वारंटीन किए जाने को आपत्तिजनक बताया है.

आपको बता दे कि सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई और ED ने अपनी जांच शुरू कर दी है. गुरुवार को सीबीआई ने सुशांत सिंह राजपूत केस में FIR दर्ज की. जिसमें रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों को आरोपी बनाया गया. जांच के लिए सीबीआई ने SIT का गठन किया है. इस टीम को गुजरात केडर के आईपीएस मनोज शशिधर हेड कर रहे हैं. सुशांत केस में ईडी ने रिया चक्रवर्ती को 7 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया है. रिया से उनकी प्रॉपर्टी और सुशांत संग लेन-देन को लेकर सवाल पूछे जा सकते हैं. 

Find Us on Facebook

Trending News