किशनगंज के स्कूल में एमडीएम में अनियमितता, बच्चों को दिया जाता है ख़राब खाना

किशनगंज के स्कूल में एमडीएम में अनियमितता, बच्चों को दिया जाता है ख़राब खाना

KISHANGANJ : मध्याह्न भोजन योजना के तहत एक ओर जहाँ सरकार मीनू चार्ट बनाकर स्कूल के बच्चों को अच्छा और पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाता है. लेकिन सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद इस योजना में खामी देखने को मिल जाती है. ताजा मामला किशनगंज जिला मुख्यालय अन्तर्गत नगरपरिषद क्षेत्र के वार्ड नं 10 उत्क्रमित मध्य विद्यायल फरिंगोरा में सामने आया है. यहाँ एमडीएम में अनियमितता की बात सामने आई है. 

इसे भी पढ़े : परीक्षा देकर लौट रहे दो छात्रों की नहर में डूबने से हुई मौत, दो की हालत गम्भीर

खाना बनाने के बाद स्कूल प्रबंधन खाना को युहीं सडकों पर फेंक देता है. फेंका हुआ खाना देखकर जब लोगों ने  पूछा तो स्कूल की रसोइयां ने एमडीएम में बरते जाने वाली अनियमितता की पोल खोल दी. उन्होंने कहा कि स्कूल में खाना अच्छा नही बनता है. सब्जी खराब है. चावल में सिर्फ हल्दी मिलाकर दे दिया जाता है. बच्चा खाना देखकर ही खाना नहीं चाहते है. स्कूल के एमडीएम की ऐसी स्थिति और रसोइया की बात से साफ तौर पर स्प्ष्ट हो जाता है कि यहाँ एमडीएम की कैसी व्यवस्था है और बच्चों को कैसे अच्छा और पौष्टिक भोजन मिलता है. 

इसे भी पढ़े : पुलिस ने जाली नोट बनाने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह का किया पर्दाफाश, हथियार के साथ आठ गिरफ्तार

हालांकि की स्कूल में एमडीएम की ऐसी बात को लेकर स्कूल शिक्षक और प्रिंसिपल कुछ भी बोलने से बचते रहे. सरकारी स्कूल में एमडीएम में ऐसी अनियमितता बच्चो के सेहत को खराब करती ही है साथ कि सरकारी मद का सही उपयोग नही होता है. जरूरत है ऐसी व्यवस्था को सुधार करने की ताकि सरकार बच्चो के लिए जो अच्छा और पौष्टिक भोजन की व्यवस्था करती है वह उनको सही से मिल सके. 

किशनगंज से साजिद हुसैन की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News