महागठबंधन के टूट पर बोले जगदानंद सिंह, नीतियों से बना है महागठबंधन, कोई मतभेद नहीं; फूट तो एनडीए में है

महागठबंधन के टूट पर बोले जगदानंद सिंह, नीतियों से बना है महागठबंधन, कोई मतभेद नहीं; फूट तो एनडीए में है

पटना. बिहार विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस और राजद अलग-अलग लड़ रही है. इसको लेकर महागठबंधन पर सवाल खड़े हो गये है. इसके बारे में राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा कि महागठबंधन नीतियों से बना है. राजद और कांग्रेस की नीति एक है. इसमें कोई दरार नहीं है. कृषि नीति, जनसंख्या नियंत्रण और जातिगत जनगणना नीति पर राजद और कांग्रेस एक है. इन नीतियों में हमलोगों के बीच कोई टकराव नहीं है. वहीं उन्होंने कहा कि फूट तो एनडीए में है. जदयू और भजपा की नीतियों में अंतर है. उन्होंने कहा कि कृषि कानून, जनसंख्या नियंत्रण और जातिगत जनगणना को लेकर भाजपा और भाजपा में मतभेद है. इसलिए फूट एनडीए में है.

वहीं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के 'जेल भरो आंदोलन' बयान को लेकर विपक्षी दल लालू प्रसाद पर निशाना साध रहा है. इस बीच राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने लालू के बयान को स्पष्ट किया है. उन्होंने कहा कि आंदोलन के लिए संघर्ष करना पड़ता है. इस दौरान बड़े-बड़े नेताओं को भी जेल जाना पड़ा है. साथ ही इस बयान को लेकर युवाओं के नौकरी पर पड़ने वाले आसर को लेकर उन्होंने कहा कि कोई भी कानून आंदोलनकारी के चरित्र को गलत रूप से परिभाषित नहीं करता है. इससे युवाओं के चरित्र पर किसी तरह का असर नहीं पड़ेगा.

वहीं इस दौरान उन्होंने भाजपा और जदयू पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि तनाशाही, संप्रदायिक फैलाने वाले लोग, किसान विरोधी लोग, अर्थव्यवस्था खत्म करने वाले लोग और दबे कुचले वर्ग को सताने वाले लोग के खिलाफ राजद हमेशा लड़ती रही है और आगे लड़ती रहेगी. वहीं लालू यादव के जेल के दौरान प्रचार करने को लेकर कहा कि 'प्रचार क्यों नहीं करेंगे'. लालू यादव गरीबों और वंचितों के लिए लड़ाई लड़े हैं और आगे भी लड़ते रहेंगे.

Find Us on Facebook

Trending News