एक ही परिवार के 3 सदस्यों के हत्या का जेल कनेक्शन आया सामने, यहीं सजा काट रहा है मास्टरमाइंड, अब पीड़ित परिवार को सताने लगा है आनेवाले खतरे का डर

एक ही परिवार के 3 सदस्यों के हत्या का जेल कनेक्शन आया सामने, यहीं सजा काट रहा है मास्टरमाइंड, अब पीड़ित परिवार को सताने लगा है आनेवाले खतरे का डर

BUXER : इन दिनों बक्सर में अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। इस वक्त लगातार जिले में कहीं ना कहीं घटनाएं नजर आ रही है, कुछ मामलों में सफलता मिलती है। वही जहां जेल कनेक्शन की बात सामने आ जाए तो मामला बेहद संगीन हो जाता है। जिसका नतीजा है कि अपराधी सरेआम आते हैं और बीच बाजार किसी को गोलियों से छलनी कर बड़ी ही आसानी से फरार हो जाते हैं। मामला बक्सर जिला के सोनबरसा थाना ओपी का है, जहां कड़सर गांव के मछली बाजार में मुर्गा खरीदारी कर रहे शिव नारायण सिंह को अपराधियों ने कडसर गांव के व्यस्ततम जगह पर दो मोटरसाइकिल पर सवार चार अपराधियों ने गोलियों से छलनी कर दिया। वहां मौजूद लोगों ने पुलिस के साथ घायल को नावानगर पीएचसी में ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

घटना से आक्रोशित लोगों ने मुख्य सड़क पूरी रात किया जाम, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

 लगातार तीसरी हत्या की घटना के बाद परिजन आक्रोशित हो गए और डुमरांव बिक्रमगंज मुख्य सड़क को देर रात 9 बजे जाम कर दिया गया। जहां एसपी नीरज कुमार सिंह को जाना पड़ा, काफी मशक्कत के बाद एसपी के आश्वासन के बाद ही परिजनों का गुस्सा शांत हुआ। वही एसपी के सामने परिजनों ने पुलिस पुलिस के कार्यशैली पर सवाल खड़ा किया। 

पूर्व की जमीनी विवाद में हो रही है हत्या

बताते चलें कि पूर्व में भी इसी परिवार में 2 लोगों की हत्याएं हो चुकी है, इन तीनों हत्याओं का एक ही कनेक्शन है और वह है आपसी जमीनी विवाद। जहां पूर्व में 2013 में मृतक शिव नारायण सिंह के पिता रामबालक सिंह उर्फ कड़े सिंह को छत पर सोते हुए ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उसके बाद 2018 में इसी परिवार के अशोक सिंह की भी हत्या कर दी गई थी। जिसकी खबर हमने प्राथमिकता से दिखाया था। अब इस परिवार के शिवनारायण सिंह इस तिहरे हत्याकांड के बाद पुलिस की कार्यशैली के साथ-साथ परिजनों को भी अपने ऊपर आने वाले अनहोनी की आशंका सता रही है।

मृतक के परिजनों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए आत्मदाह की धमकी दी

मामले में मृतक के भतीजा राजीव रंजन ने बताया कि इन हत्याओं के पीछे जेल में बैठे एक ब्रहमचारी नाम के व्यक्ति ने यह पूरी जेल के अंदर से साजिश रची है। जिनका बेटा अभी तक फरार है उसी ने गांव के लोगों के साथ मिलकर मुर्गा खरीद रहे चाचा की हत्या की है। पुलिस पर सवाल खड़ा करते हुए, एसपी ऑफिस के पास आमरण अनशन करने के बाद न्याय नहीं मिलने पर मुख्यमंत्री के यहां आत्मदाह करने की भी बात राजीव रंजन ने कहीं। वही सदर अस्पताल में अंत्य परीक्षण करने के बाद डॉक्टर अनिल कुमार ने 11 गोली लगने की बात कहीं।

जेल कनेक्शन से मामला गंभीर

मिली जानकारी के अनुसार पिछले मामलों में पहले से जेल की सजा काट रहा ब्रह्मचारी ही पूरी घटना का मास्टरमाइंड है जो जेल में बंद है। इस मामले का जेल से कनेक्शन जुड़ने के बाद पुलिस इस पूरे मामले को लेकर गंभीर हो गई है। इस मामले पर बक्सर एसपी नीरज कुमार सिंह ने बताया कि इस मामले में पुलिस पूरी तरह से गंभीर है और अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। पूर्व की जमीनी विवाद बताते हुए इस घटना का जेल कनेक्शन पर उन्होंने जांच की बात कही।

अब देखना है कि पुलिस इस मामले को किस तरह खुलासा करती है यह आने वाला समय बताएगा। बता दें कि पूरे जिले में जमीन से जुड़े कई हत्याएं हो रही है। जिसमें अधिक मामलों में प्रशासन की लापरवाही सामने देखने को मिलती है, जिस तरह पूर्व में बगेन थाना क्षेत्र के पोखरहा हत्याकांड, इस मामले में भी अभी तक गिरफ्तारी नहीं होने से परिजन भयभीत रहते हैं। जिस पर प्रशासन को गंभीर होना चाहिए।


Find Us on Facebook

Trending News