बिहार के अलग अलग जिलों में जन्माष्टमी की धूम, कान्हा के वेश में बच्चों ने जमाया रंग

बिहार के अलग अलग जिलों में जन्माष्टमी की धूम, कान्हा के वेश में बच्चों ने जमाया रंग

SASARAM : जन्माष्टमी को लेकर सासाराम में भी उत्साह देखा जा रहा है। खासकर बच्चों में जन्माष्टमी को लेकर काफी उमंग है। नन्हे मुन्ने बच्चे भगवान श्रीकृष्ण का रूप धारण कर थिरकते देखे जा रहे हैं। यह सासाराम का दृश्य है। जिसमें नन्हा बालक अद्वैत कृष्ण-भजन के धुन पर झूम रहा है। पूरी तरह से भगवान कृष्ण का बाल रूप धारण कर सब को सम्मोहित कर रहा है। बता दें कि भगवान श्रीकृष्ण का बाल रूप सर्वप्रिय है। खासकर जन्माष्टमी पर बच्चे नन्हा बाल गोपाल बन कर फूले नहीं समाते हैं। चुकी कोरोना का संक्रमण का दौर है। लेकिन फिर भी बच्चों में उत्साह कहीं से कम नहीं है। यह कहे कि जन्माष्टमी की रौनक है।

वहीँ नवादा जिले भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की गांव से लेकर शहर तक धूम है। सुबह से ही बाजार में चहल-पहल दिख रही है। मंदिर में साफ-सफाई और सजावट की जा रही है। सुबह से घरों-मंदिरों में पूजा-अर्चना, भजन-कीर्तन शुरू हो गयी है। 

वहीँ छोटे-छोटे बच्चों ने कृष्ण और राधा बनकर सबका दिल जीत लिया। कृष्ण एवं राधा के रूप धारण कर जहां सबके दिलों को मोह लिया,वहीं इतनी छोटी सी उम्र में अपनी कला का प्रदर्शन कर सब के दिलों में एक अलग जगह बनाई। 

जिले के सहायक कोटि मंदिर प्रसाद बीघा मंदिर न्यू एरिया मंदिर पुरानी जेल रोड मंदिर सब्जी बाजार मंदिर आदि जगहों पर मंदिरों में भजन-कीर्तन जोर-शोर से हो रही है। भाद्रपद मास के कृष्णपक्ष की अष्टमी तिथि को भगवान श्रीकृष्ण के जन्म के उपलक्ष्य में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है। जिसको लेकर पूरे शहर में हर जगह पर सजावट किया गया है। वही कई लोग अपने घर में ही बड़े पैमाने पर पूजा पाठ कर रहे हैं आज पूरे जिले भर में श्री कृष्ण की जन्माष्टमी लाइट ढोल बजाते सजा दिया गया है।

सासाराम से राजू और नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News