नगर निकाय चुनाव में ईबीसी रिजर्वेशन पर JDU-BJP आमने-सामने, ललन सिंह ने सुशील मोदी को याद दिलायी पुरानी बातें, भाजपा को बताया आरक्षण विरोधी

नगर निकाय चुनाव में ईबीसी रिजर्वेशन पर JDU-BJP आमने-सामने, ललन सिंह ने सुशील मोदी को याद दिलायी पुरानी बातें, भाजपा को बताया आरक्षण विरोधी

पटना. बिहार नगर निकाय चुनाव में ईबीसी आरक्षण को लेकर जमकर सियासत हो रही है। निकाय चुनाव में ईबीसी आरक्षण पर हाईकोर्ट के फैसले के बाद ही जदयू और बीजेपी आमने-सामने हैं। बीजेपी के नेता इसको लेकर सीधे सीएम नीतीश पर प्रहार कर रहे हैं, वहीं जदयू के नेता बीजेपी को आरक्षण विरोधी बता रहे हैं। अब इस आरक्षण को लेकर जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने सुशील मोदी को घेरा है। उन्होंने सुशील मोदी को पूराने दिनों को याद दिलाया है।

ललन सिंह ने इसको लेकर ट्वीट करते हुए कहा, '2007 में जब नगर निकाय में आरक्षण का कानून बना, जिस पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर लगी। उस समय बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी जी नगर विकास के मंत्री भी थे। तब से अब तक उसी कानून के अंतर्गत चुनाव हो रहे हैं और अब सुशील मोदी जी उसी पर सवाल उठा रहे हैं? वे महाराष्ट्र के मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले से इसको जोड़ रहे हैं और आयोग बनाने की बात कर रहे हैं, जिसका कोई औचित्य नहीं है। बीजेपी आरक्षण विरोधी है और आयोग बनवाकर आरक्षण के मामले को उलझाना चाहती है।

वहीं इसको लेकर सुशील मोदी ने सीधे सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा था। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा था, 'अति पिछड़ों को नगर निकाय चुनाव में आरक्षण से वंचित करने के लिए नीतीश कुमार ज़िम्मेवार है। उन्होंने कहा कि मैंने तीन बार बयान देकर सरकार को चेतावनी दी थी कि बिना ट्रिपल टेस्ट के चुनाव मत कराइए । परंतु नीतीश कुमार किसी की सुनने को तैयार नहीं थे । जो फ़ज़ीहत हुई है उसके लिए केवल नीतीश ज़िम्मेवार हैं।'

वहीं नीतीश सरकार ने पटना हाईकोर्ट के आरक्षण पर लिये गये फैसले पर बड़ा निर्णय लिया है। हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देने के लिए बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट जाएगी। दरअसल, पटना हाईकोर्ट ने नगर निकाय चुनाव में ईबीसी आरक्षण पर फैसला सुनाया था। हाईकोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के नियमों का हवाला देते हुए निकाय चुनाव में ईबीसी आरक्षण की अनुमति देने से इनकार कर दिया था।

आरक्षण पर हाईकोर्ट के फैसले के बाद बिहार में नगर निकाय का चुनाव टल गया है। अब इस पर बिहार में सियासत होने लगी है। अब भाजपा ने पूरे बिहार में गुरुवार को सीएम नीतीश का पुतला दहन करने का ऐलान किया है। नगर निकाय चुनाव को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए सम्राट चौधरी ने सीएम नीतीश पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि नगर निकाय चुनाव में हाईकोर्ट के फैसले के बाद जो स्थिति उत्पन्न हुई है, उससे यह साफ हो रहा है कि नीतीश सरकार ने अति पिछड़ो के साथ खिलवाड़ किया है। उन्होंने कहा कि बिहार के सभी मुख्यालय पर बीजेपी मुख्यमंत्री नीतीश का पुतला दहन करेगी।


Find Us on Facebook

Trending News