बदले हालात में कोई रिस्क नहीं लेना चाहता है JDU, कई सीटिंग MLA का पत्ता हो सकता है साफ, जिताऊ कैंडिडेट पर ही खेला जाएगा दांव

बदले हालात में कोई रिस्क नहीं लेना चाहता है JDU, कई सीटिंग MLA का पत्ता हो सकता है साफ, जिताऊ कैंडिडेट पर ही खेला जाएगा दांव

patna : बिहार विधानसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. ऐसे में सियासी दल अब अपने चुनावी अखाड़े के योद्दाओं को परख रहे हैं जो जीत दिला सकें. हर पार्टी इस बार वैसे कैंडिडेट को मैदान में उतारना चाहती है जो जीत का सेहरा अपने सिर बांधे. सीएम नीतीश कुमार ने भी चुनाव की तैयारियों और उम्मीदवारों के चयन का कमान खुद थाम लिया है.

कई विधायकों का कट सकता है टिकट
सीएम नीतीश कुमा अब लगातार नेताओं और कार्यकर्ताओं से फीडबैक ले रहे हैं. सीएम नीतीश कुमार पार्टी दफ्तर पहुंचकर उम्मीदवारों के चयन पर फोकस कर रहे हैं. मंगलवार से सीएम नीतीश ने पार्टी दफ्तर जाना शुरू किया वो बुधवार को करीब 8 घंटे तक पार्टी दफ्तर में रहे और लोगों से मिलते जुलते रहे. सबसे इलाके के विधायकों की जानकारी ली और लोगों से अपने अपने क्षेत्र में सरकार की उपलब्धी गिनाने की बात कही.

सीएम नीतीश कुमार यह जानते हैं कि इस बार चुनावी समीकरण बदला हुआ है. पिछली बार राजद और कांग्रेस के साथ चुनावी मैदान में थे तो जातिया समीकरण और सपोर्ट अलग था लेकिन इस बार जदयू बीजेपी के साथ है. इसके साथ ही लोजपा के साथ चल रही तनातनी भी है. अंदरखाने यह चर्चा है कि इन सब को देखत हुए इस बार पार्टी उस पर ही दांव लगाएगी जो जीत दिलाने का मद्दा रखता हो. इस हाल में यह बताया जा रहा है कि जदयू के कई विधायकों का फीडबैक ठीक नहीं मिल पाया है.खबर है कि पार्टी इस बार कई सीटिंग एमएलए का पत्ता साफ कर सकती है. पार्टी ने यह रणनीति बनाई है कि वैसे उम्मीदवारों को मैदान में उतारा जाए जो सब हिसाब से फीट बैठता हो.

Find Us on Facebook

Trending News