बिहार में नए सियासी समीकरण बनाने में जुटी जदयू, ललन सिंह की JDU विधायकों संग बैठक शुरू

बिहार में नए सियासी समीकरण बनाने में जुटी जदयू, ललन सिंह की JDU विधायकों संग बैठक शुरू

पटना. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन उर्फ़ ललन सिंह शनिवार को पार्टी के विधायकों और नेताओं संग बैठक कर रहे हैं. पटना में चल रही इस बैठक में जदयू के कई विधायक और वरीय नेता पार्टी शामिल हुए हैं. ललन सिंह ने बताया कि जदयू के संगठन विस्तार के लिए पार्टी के विधायकों, प्रदेश अध्यक्षों, प्रकोष्ठों के प्रमुख सहित अन्य वरीय नेताओं के साथ मुलाकात होनी है. उन्होंने कहा कि यह पूर्ण रूप से जदयू के विस्तार से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करने के लिए हो रही एक मुलाकात है. 

उन्होंने कहा कि पार्टी सबके सुझाव और राय-मशविरा से चलती है. इसके लिए पार्टी के अध्यक्ष भी सभी से वार्ता करके ही कोई भी निर्णय लेते हैं. इसलिए जदयू के विधायकों और अन्य नेताओं से वे मिल रहे हैं. यह सिर्फ संगठन विस्तार से जुड़ा मसला है. इसलिए इसका कोई भी अन्य राजनीतिक कारण नहीं है. बैठक संगठन की मजबूती और विस्तार को लेकर है और सभी विधायकों की इसमें राय ली जाएगी . इसी के लिए आज हम लोगों की मुलाकात हो रही है.

दरअसल, जदयू की अचानक हुई इस बैठक को लेकर कई प्रकार की राजनीतिक कयासबाजी लगाई जा रही थी. कहा जा रहा था कि राज्य में एनडीए घटक दलों के बीच लगातार हो रही कटाक्षपूर्ण बयानबाजी से जुड़े मुद्दों पर वार्ता के लिए जदयू के सभी वरीय नेता मिल रहे हैं. लेकिन ललन सिंह ने इन तमाम कयासबाजियों को सिरे से ख़ारिज कर दिया है. उन्होंने साफ कहा कि यह मुलाकात सिर्फ जदयू के संगठन विस्तार को लेकर है. 

जदयू को बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में अपेक्षाकृत सफलता नहीं मिली थी. हालांकि बाद में मणिपुर सहित कुछ राज्यों में पार्टी ने बढिया प्रदर्शन किया. वहीं उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में एक बार फिर जदयू को मुंह की खानी पड़ी. पार्टी को एक भी सीट पर सफलता नहीं मिली थी. इस बीच आरसीपी सिंह की जगह ललन सिंह अब जदयू के अध्यक्ष बन चुके हैं. साथ ही आरसीपी अब केंद्र में भी मंत्री नहीं हैं और ना ही उन्हें राज्यसभा में दोबारा भेजा गया. ऐसे में आज की इस बैठक को कई मामलों में अहम माना जा रहा है. जदयू अगले वर्षों में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए भी अभी से कमर कसने लगी है. इसी क्रम में पार्टी नेताओं को ललन सिंह अहम जिम्मेदारी सौंप सकते हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News