जदयू ने भोरे भोरे को लालू को लपेटा, बीमारी में भी वोट के लिए घसीटा रहे हैं, अब बेटों का भी दंगल शुरू है

जदयू ने भोरे भोरे को लालू को लपेटा, बीमारी में भी वोट के लिए घसीटा रहे हैं, अब बेटों का भी दंगल शुरू है

PATNA : स्वास्थ्य कारणों से जेल से जमानत पर छूटे लालू प्रसाद के चुनावी सभा को लेकर जदयू ने सुबह - सुबह बड़ा हमला किया है। जदयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा लालू प्रसाद खुद कहते हैं कि उपचुनाव में जदयू की हार हो जाएगी और हमारी सरकार में भगदड़ मच जाएगी। हमें बेइमान करने से पहले लालू जी को पहले अपने परिवार और पार्टी की चिंता करनी चाहिए। 

अभिषेक झा ने कहा कि राजद में किस तरह के भगदड़ मची हुई है, यह सभी देख रहे हैं। लालू जी आपके बड़े बेटे आपके घर से भागकर धरना दे रहे हैं। तेज प्रताप छोटे भाई के लिए किस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। वह अपनी पार्टी और परिवार को नहीं संभाल पा रहे हैं। दोनों बेटों के बीच एक दंगल छिड़ा हुआ है। जनता इसे समझ चुकी है और वह सोचने पर मजबूर है कि कैसे इस परिवार को 15 साल राज्य की सत्ता पर बैठने दिया। 

बीमार लालू को चुनाव में घसीट लिया

अभिषेक झा यहीं पर नहीं रूके, उन्होंने तेजस्वी यादव पर बीमार लालू को चुनाव में घसीटने का आरोप लगाया है। जदयू प्रवक्ता ने कहा कि एक तरफ तेजस्वी कहते हैं कि लालू जी आएं या न आएं, कोई फर्क नहीं पड़ता है। वहीं दूसरी तरफ बीमार व्यक्ति को अपने फायदे के लिए चुनाव में घसीट रहे हैं, ताकि जनता उन्हें वोट दे सके। यहां तक कि स्वास्थ्य कारणों से जेल से बाहर आए लालू स्वास्थ्य लाभ लेने के लिए चुनाव प्रचार के लिए जा रहें हैं।

राजद को प्राइवेट पार्टी करें घोषित

कांग्रेस पार्टी पर सवाल उठाने से पहले लालू जी को पहले यह घोषित करना चाहिए कि उनकी पार्टी प्राइवेट पार्टी है, जिस पर सिर्फ एक परिवार का हक बना रहेगा। कभी किसी बाहरी को मौका नहीं मिलेगा। अभिषेक झा ने राजद सुप्रीमो को चुनौती देते हुए कहा कि अगर वह सही मायने में समाजवादी हैं, तो बेटों की जगह किसी बाहरी को नेतृत्व सौंप कर दिखाएं



Find Us on Facebook

Trending News