अमित शाह के सीमांचल में रैली के जवाब देने के लिए जदयू ने बनाई बड़ी योजना, ललन सिंह ने कर दी घोषणा

अमित शाह के सीमांचल में रैली के जवाब देने के लिए जदयू ने बनाई बड़ी योजना, ललन सिंह ने कर दी घोषणा

PATNA : चार दिन बाद 23 सितंबर को गृह मंत्री अमित शाह सीमांचल के पूर्णिया में बड़ी सभा करने जा रहे हैं। जहां से वह बिहार सरकार सहित प्रदेश में लोकसभा चुनाव को लेकर बिगुल फुंकनेवाले हैं। जिस तरह से भाजपा की तरफ से सभा की तैयारी की जा रही है, उसके बाद यह माना जा रहा है कि सीमांचल इलाके में इसका बड़ा प्रभाव पड़ेगा। बिहार के इस इलाके में भाजपा को ज्यादा फायदा न मिले, इसको लेकर अब जदयू ने भी जबाव देने की तैयारी शुरू कर दी है। 

तीन जिलो में जदयू करेगी रैली

अमित शाह के जवाब में महागठबंधन ने भी रैली करने का फैसला कर लिया है. इसकी जानकारी जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह (JDU President Lalan Singh) ने दी है। एक कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ललन सिंह ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि बिहार के पूर्णिया, किशनगंज और कटिहार में रैली का आयोजन होगा। यह रैली साम्प्रदायिक सौहार्द और आपसी एकता बढ़ाने के लिए होगी. मतलब साफ है कि रैली का जवाब रैली से दिया जाएगा।

बता दें कि पिछले कुछ साल से भाजपा की नजर अति पिछड़ा वोट बैंक पर है. रणनीति के तहत भाजपा ने अति पिछड़ा समुदाय से आने वाले दो नेताओं को उप मुख्यमंत्री बनाया था. भाजपा ने धानुक जाति से आने वाले अति पिछड़ा समुदाय के नेता को राज्यसभा भी भेजा था। अब बिहार में सरकार से अलग होने के बाद भाजपा उन इलाके से अपनी नई शुरूआत करने जा रही है, जहां उनके वोट बैंक सबसे कमजोर माने जा रहे थे। जिसका फायदा भाजपा को मिल सकता है।

बहरहाल, दोनों पार्टियों की घोषणा के बाद यह स्पष्ट है कि आनेवाले कुछ दिन बिहार की राजनीति पटना से शिफ्ट होकर सीमांचल के जिलों में केंद्रित रहेगी। पहले 23-24 को अमित शाह सभा करेंगे. वहीं उसके बाद जदयू तीन जिलों में रैली करेगी।


Find Us on Facebook

Trending News