तेजस्वी को जवाब देने के लिए जदयू ने प्रवक्ताओं की उतारी फौज,कहा- अफवाहबाज राजद की दाल नहीं गलने वाली

 तेजस्वी को जवाब देने के लिए जदयू ने प्रवक्ताओं की उतारी फौज,कहा- अफवाहबाज राजद की दाल नहीं गलने वाली

पटना : तेजस्वी यादव ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस में शराबबंदी को लेकर सीएम नीतीश कुमार पर गंभीर आरोप लगाए थे।इसके बाद उन आरोपो पर जवाब देने के लिए जदयू ने मंगलवार को अपने प्रवक्ताओं की फौज उतार दी।प्रदेश जदयू दफ्तर में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में एक साथ 4 प्रवक्ताओं ने तेजस्वी यादव पर पलटवार किया।

जेडीयू प्रवक्ताओं ने तेजस्वी यादव को चुनौती देते हुए कहा कि नीतीश कुमार पर लगाए आरोप साबित करें अन्यथा राजनीति से सन्यास लें।जदयू नेताओं ने चुनाव आयोग से मांग किया है कि तेजस्वी यादव के शराब की होम डिलिवरी संबंधित अमर्यादित बयान पर संज्ञान लेना चाहिए ।

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन,नवीन कुमार आर्य,अरविन्द निषाद और अंजुम आरा नें कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी कानून के जरिये एक बड़े बदलाव किए हैं।महिला उत्पीड़न,सड़क दुर्घटना कम हुयी है और घरों में खुशहाली आयी है।शराब पर होने वाले अपव्यय के स्थान पर घर में पैसे बच रहे हैं। जिससे बच्चों की शिक्षा, बुजुर्गों की चिकित्सा एवं परिजनों के जीवन की आवश्यकताओं की पूर्ति हो रही है।

जदयू नेताओं ने तेजस्वी के आरोपों पर सिलसिलेवार रूप से जवाब देते हुए कहा कि जनता दल (यूनाईटेड) विशेष राज्य दर्जा की मांग पर आज भी कायम है।डबल इंजन की सरकार से बिहार की जनता को उम्मीदें हैं। विकास की तेज रफ्तार गाड़ी पर बिहार निरंतर आगे बढ़ रहा है। जदयू नेताओं ने कहा कि  महागठबंधन बिहार की जनता को आरक्षण के प्रश्न पर बरगलाना बन्द करे। आरक्षण पर कोई सवाल नहीं खड़ा कर सकता। आरक्षण के प्रश्न पर केन्द्र सरकार ने अपना संकल्प दोहराया है।ऐसे में अफवाहबाज राजद एवं उनके समर्थक दलों की दाल नहीं गलने वाली है।

Find Us on Facebook

Trending News