JHARKHAND NEWS: तो क्या शिकार करने गये ग्रामीणों को ही नक्सली समझ के पुलिस ने कर दी गोलीबारी ! मामले को लेकर फैली सनसनी, जांच जारी

JHARKHAND NEWS: तो क्या शिकार करने गये ग्रामीणों को ही नक्सली समझ के पुलिस ने कर दी गोलीबारी ! मामले को लेकर फैली सनसनी, जांच जारी

लातेहार: जिले के गारू थाना क्षेत्र के पीरी जंगल में शनिवार की सुबह सुरक्षाबलों व माओवादियों के बीच नहीं बल्कि शिकार खेलने गये हथियारबंद युवकों की टोली व पुलिस के बीच हुई थी। दोनों तरफ से हुई गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौके पर ही मौत हो गयी थी जबकि एक के घायल होने की खबर थी। अब इस खुलासे के बाद सनसनी फैल गयी है। दरअसल शनिवार सुबह यह खबर सामने आयी थी कि जिले के कुकू-पीरी जंगल में सुरक्षाबलों व झारखंड जगुआर टीम के बीच हुई मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया है।

स्थानीय था मृतक

खबर के अनुसार पुलिस की गोलीबारी में मरने वाले ग्रामीण की पहचान ब्रह्मदेव सिंह के रूप में की गयी है। वह पीरी गांव का निवासी है जबकि घायल की पहचान दीनानाथ सिंह के रूप में की गयी है। उसे बांह में गोली लगी है। इधर लातेहार एसपी प्रशांत आनंद ने पत्रकारों को बताया कि कुमंडीह के जंगलों में सीआरपीएफ, कोबरा व झारखंड जगुआर की टीम अलग-अलग क्षेत्रों में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चला रही थी। इसी दौरान ऊंचाई पर बैठी एक टीम ने कुछ हथियारबंद युवकों को आते देखा।  इसी बीच लड़कों ने गोली चला दी। जवाबी फायरिंग में एक युवक मारा गया। 

युवकों ने कहा, जानवर पर चलायी गोली

हालांकि एसपी के अनुसार सर्च अभियान में पांच अन्य युवकों को हथियार के साथ पकड़ा गया। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। जबकि युवकों का कहना है कि वे शिकार करने भरठुआ बंदूक के साथ जा रहे थे। इसी दौरान उनको एक जानवर दिखा, जिसके बाद उन्होंने गोली चला दी। एसपी का कहना है कि इस घटना में नक्सली संगठन शामिल नहीं है। पुलिस इस तरह के मामले में तय प्रोटोकाल के अनुसार कार्य कर रही है। वहीं स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि पीरी गांव के छह लड़कों की टोली भरठूआ बंदूक के साथ खरहा या जंगली सूअर का शिकार करने निकली थी, तभी पुलिस के साथ गोलीबारी हो गई। घटनास्थल गांव से बिल्कुल सटा हुआ है। इधर पूरे मामले को लेकर क्षेत्र में कई तरह की चर्चाएं हैं।

Find Us on Facebook

Trending News