तेज प्रताप के साथ खड़े हुए जीतन राम मांझी, तेजस्वी पर लगाया साजिश का आरोप, कहा - परिवार पर अत्याचार कर रहे हैं नेता प्रतिपक्ष

तेज प्रताप के साथ खड़े हुए जीतन राम मांझी, तेजस्वी पर लगाया साजिश का आरोप, कहा - परिवार पर अत्याचार कर रहे हैं नेता प्रतिपक्ष

PATNA : जो व्यक्ति अपने परिवार पर अत्याचार कर सकता है. उस व्यक्ति के हाथों में बागडोर कैसे सौंपी जा सकती है। यह कहना है पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा का। बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हम ने कहा कि तेजस्वी यादव धीरे धीरे अपने ही परिवार के लोगों का किनारा करने में लगे हैं। जिसमें ताजा शिकार तेज प्रताप बने हैं।

हम के राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान ने विवादों में घिरे तेज प्रताप यादव का खुला समर्थन करते हुए कहा कि तेजस्वी यादव उन्हें पार्टी से किनारे लगाने के लिए साजिश के तहत फंसाने में लगे हैं। दानिश रिजवान ने कहा कि तेजस्वी यादव पहले उन्हें मंदबुद्धि, भकचोन्हर और पता नहीं क्या क्या कहलवाया। अब तेज प्रताप पर मारपीट के आरोप लगाकर पूरी तरह से पार्टी से अलग करना चाहते हैं। 

पहले भी कर चुके हैं ऐसा

दानिश रिजवान ने कहा कि तेजस्वी यादव पहले भी ऐसा कर चुके हैं। विधानसभा चुनाव में उन्होंने लालू जी की तस्वीर हटवाई, फिर अभी रामनवमी में पार्टी कार्यालय में अपने नजदीकी साथी के सहयोग से मां राबड़ी देवी की तस्वीर भी हटवा दी और उनकी जगह पत्नी राजश्री की तस्वीर लगवा दी। चीजें स्पष्ट है कि तेजस्वी यादव अपने ही परिवार के सदस्यों पर अत्याचार कर रहे हैं। ऐसे में उनके ऊपर प्रदेश की बागडोर सौंपने का फैसला कहां तक सही है, इसको लेकर लालू जी को सोचने की जरुरत है। तेजस्वी यादव का रवैया एक तानाशाह की तरह हो गया है। जिसका नतीजा बेहद खतरनाक हो सकता है।

क्या है पूरा मामला 

तेजस्वी यादव के इफ्तार पार्टी के अगले दिन यह खबर सामने आई थी कि हसनपुर से विधायक और लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप ने राबड़ी आवास में रामराज यादव नाम के राजद नेता की बेरहमी से पिटाई की और उसका वीडियो भी बनवाया। राजद की तरफ से इस मामले को दबाने का  भरसक प्रयास किया गया, लेकिन बीते सोमवार को मामले में नया मोड़ तब आ गया, जब पीड़ित नेता सहित बड़ी संख्या राजद कार्यकर्ता पार्टी कार्यालय पहुंच गए और तेज प्रताप के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। वहीं दूसरी तरफ तेज प्रताप ने ट्विटर पर घोषणा की कि वह राजद से इस्तीफा दे देंगे।




Find Us on Facebook

Trending News