जीतनराम मांझी के बाद रालोसपा सुप्रीमों उपेंन्द्र कुशवाहा नाराज, सीट शेयरिंग पर मचा घमासान

जीतनराम मांझी के बाद रालोसपा सुप्रीमों उपेंन्द्र कुशवाहा नाराज, सीट शेयरिंग पर मचा घमासान

PATNA: जीतन राम मांझी के महागठबंधन से अलग होने के बाद रालोसपा सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी देखने को मिल रही है. दरअसल सीट बंटवारे को लेकर महागठबंधन में घमासान मचा हुआ है और उपेंद्र कुशवाहा भी इस मसले को लेकर नाराज चल रहे हैं. वैसे जीतनराम मांझी के महागठबंधन से अलग हो जाने के बाद ऐसा लग रहा था कि अब महागठबंधन में सीट शेयरिंग का फार्मूला आसान हो जाएगा और सही समय पर सही तरीके से सीट शेयरिंग का फार्मूला तय कर लिया जाएगा, लेकिन उपेंद्र कुशवाहा के नाराजगी यह बताने के लिए काफी है कि सीट बंटवारे को लेकर महागठबंधन में टेंशन बरकरार है.

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक में उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि सीट शेरिंग में गठबंधन में देर हो रही है और कई बातों में अभी अस्पष्टता है. नेताओं कार्यकर्ताओं में उलझन है. उन्होंने कहा कि सीटों का बंटवारा देरी से होने पर गठबंधन को नुकसान होगा. इसलिए सभी दलों को मिलकर जल्द इस पर फैसला लेना होगा. कुशवाहा ने यह भी कहा कि इसके लिए गठबंधन के अन्य दलों को भी तत्परता दिखानी चाहिए. मतलब यह कि बिहार महागठबंधन में राजद के अलावा अन्य दल हैं उन्हें भी अपनी मांग करनी चाहिए.

जीतनराम मांझी पर बात करते उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि का महागठबंधन से जाना दुखद है और हमें इसका नुकसान हुआ है. गौरतलब है कि महागठबंधन से जीतन राम मांझी के जाने के बाद महागठबंधन की इकलौती पार्टी है रालोसपा जिसने जीतनराम मांझी के जाने पर दुख व्यक्त किया. इसके अलावा जितने भी अलग पार्टी महागठबंधन में है जैसे राजद और कांग्रेस दोनों की तरफ से सामान्य प्रतिक्रिया आई थी कि जीतनराम मांझी कहीं भी जाएं उससे महागठबंधन पर असर नहीं पड़ने वाला है.

Find Us on Facebook

Trending News