लालू दरबार में भी नहीं बनी मांझी की बात,महागठबंधन में उलझा सीटों का पेंच

RANCHI/PATNA : महागठबंधन से नाराज चल रहे हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने शनिवार को रांची के रिम्स जाकर लालू यादव से मुलाकात की। बताया जा रहा है कि लालू दरबार में भी जीतनराम मांझी की बात नहीं बनी है। लालू से मुलाकात के बाद मांझी पत्रकारों से बिना बात किए ही निकल गए। मांझी का बॉडी लैंग्वेज काफी कुछ बयां कर रहा था। बताया जा रहा है कि मांझी अपनी पार्टी के लिए 4 सीट की मांग कर रहे हैं, जबकि महागठबंधन उनको सिर्फ एक सीट देने को तैयार है।

बता दें कि इससे पहले पटना में जीतनराम मांझी ने कहा था कि वे बंधुआ मजदूर नहीं हैं, महागठबंधन में सम्मानजनक सीटें नहीं मिली तो पार्टी 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। उन्होंन कहा था कि इसको लेकर वे और बार लालू यादव से मिलेंगे। उन्होंने कहा  कि बात नहीं बनी तो फिर दूसरे विकल्प पर विचार करेंगे।

इस बीच राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह भी लालू से मुलाकात की। उन्होंने कहा महागठबंधन में सब ठीक है। समय आने पर सीटों का बंटवारा हो जाएगा। राजद के राज्‍यसभा सांसद अहमद अशरफ करीम ने भी राजद सुप्रीमो से मुलाकात की है। सांसद करीम ने बताया कि वे लालू यादव से उनकी सेहत की जानकारी लेने आए थे। विपक्षी महागठबंधन की बातों पर उन्‍होंने चुप्पी साध ली।

लोकसभा चुनाव के लिए अंदरखाने उलझ रही बिहार की विपक्षी सियासत में अभी सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है। कांग्रेस, रालोसपा, हम की मांग को देखते हुए सीटों का बंटवारा इतना आसान नहीं लगता है। ऐसे में विपक्षी महागठबंधन का पेच उलझा हुआ है।

Find Us on Facebook

Trending News