केंद्रीय मंत्री से बेटे के बारे में पत्रकारों ने पूछा सवाल तो देने लगे गाली, कैमरा छीन कर कहा- दिमाग खराब है क्या

केंद्रीय मंत्री से बेटे के बारे में पत्रकारों ने पूछा सवाल तो देने लगे गाली, कैमरा छीन कर कहा- दिमाग खराब है क्या

UP DESK :  बड़ी खबर उत्तर प्रदेश से आ रही है. लखीमपुर खीरी कांड में एसआईटी के खुलासे के बाद केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी गुस्से में आ रहे हैं. इसका एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में केंद्रीय मंत्री पत्राकरों से न सिर्फ बदसलूकी ही कर रहे हैं, बल्कि उन्हें गाली भी दे रहे हैं. वीडियो में केंद्रीय मंत्री पत्राकरों को धमकाते और गालियां देते हुए कह रहे हैं कि आपके वीडियो से एक निर्देष लोग फंस रहे हैं. कंद्रीय मंत्री जोर जबरदस्ती कर पत्राकारों को वीडियो बनाने से भी रोक रहे हैं. हालांकि इस वीडियो की पुष्टि न्यूज फॉर नेशन नहीं करता है.

किसानों को कुचलने का मामला

दरअसल सितंबर महीने में लीखीमपुर खीरी में प्रदर्शन कर रहे किसानों को कुचला गया था. इसमें चार किसानों की मौत हो गयी थी. इस कांड के चलते हिंसा भड़कने से एक पत्रकार सहित चार अन्य लोगों की भी मौत हो गयी थी. इस कांड का मुख्य आरोपी केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा है. सथा ही उसके 12 और अन्य आरोपी शामिल है. पहले इसे हादसे का रूप देकर पुलिस जांच कर रही थी. फिर सुप्रीम कोर्ट के स्वतः संज्ञान लेने के बाद मामले में नया मोड़ आ गया. मामले को लेकर कोर्ट में यूपी सरकार को कई बार फटकार लगाने के बाद कोर्ट ने नये सिरे से एसआईटी का गठन किया, जो एसआईटी रिटायर्ड न्यायधीश की निगरानी में काम कर रही थी.

एसआईटी के खुलासे के बाद भड़के मंत्री

एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में खुलासा करते हुए मामले में नया मोड़ ला दिया. एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि लखीमपुर कांड एक साजिशन हत्या की नियत से किया गया था. इसके बाद मामले में हादसे की धारा को हटाया गया और धारा 307 हत्या के प्रयास की धारा जोड़ा गया है. इससे केंद्रीय मंत्री के बेटे की मुश्किलें बढ़ गयी है. इसी मामले को लेकर जब आज पत्राकर केंद्रीय मंत्री से बात करने पहुंचे तो उन्होंने पत्रकारों न सिर्फ बदलसूकी की, बल्कि गालियां और धमकी भी दी. 


Find Us on Facebook

Trending News