दो पूर्व मंत्रियों की जुबानी जंग में कूदे रामेश्वर चौरसिया, कहा दोनों बिहार के राजनीति की ऐसी तैसी करने में लगे हैं

दो पूर्व मंत्रियों की जुबानी जंग में कूदे रामेश्वर चौरसिया, कहा दोनों बिहार के राजनीति की ऐसी तैसी करने में लगे हैं

SASARAM : पूर्व सीएम जीतन राम मांझी और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के बीच अमर्यादित जुबानी टिप्पणियों पर पूर्व विधायक रामेश्वर चौरसिया ने सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा की जनता ने इन लोगों को किसी के निजी जिंदगी में ताक झांक के लिए नहीं चुना है. इन लोगों को प्रदेश के विकास की बात करनी चाहिए. जबकि यह लोग निजी पारिवारिक मामलो में उलझ कर बिहार की राजनीति को ऐसी की तैसी करने में लगे हैं. 

आज विकास की बात करने को कोई तैयार नहीं है. कौन कहां जा रहा है? कौन अपने कमरे में क्या कर रहा है? इस पर चर्चा करने में ही सत्ता तथा विपक्ष अपने महत्वपूर्ण समय को जाया कर रहे हैं. जबकि सरकार में बैठे लोगों को विकास की बात करनी चाहिए और सत्ता पर नजर रखने के लिए विपक्ष को आई ओपनर का काम करना चाहिए. लेकिन आज ऐसा कुछ नहीं हो रहा है. 

उन्होंने कहा की क्या जनता एक दूसरे के घरों में ताक झांक करने, कौन शादी किया, कौन नहीं किया? कौन पत्नी को रखा है, कौन पत्नी को छोड़ा है. इन्हीं मुद्दों पर बहस करने के लिए चुनी है क्या? उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत तथा निजी हमले बंद होने चाहिए तथा प्रदेश की विकास पर ही चर्चा को केंद्रित करने की जरूरत है. इस दौरान रामेश्वर चौरसिया ने दोनों पर जमकर निशाना साधा. 

सासाराम से राजू की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News