बिहार में हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर, मरीजों की बढ़ी परेशानी

बिहार में हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर, मरीजों की बढ़ी परेशानी

PATNA : बिहार के जूनियर डॉक्टर आज से हड़ताल पर चले गए है। डॉक्टरों की इस हड़ताल की वजह से मरीजों की मुश्किलें एकबार फिर से बढ़ गयी है। सूबे के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच (PMCH) समेत अन्य अस्पतालों में इसका असर सुबह से ही दिखने लगा है। 

अस्पतालों के इमरजेंसी वार्ड (Emergency Ward) में मरीजों की सुध लेनेवाला कोई नहीं है। मरीज अपने हाल में पड़े है। वहीं जूनियर डॉक्टरों के हड़ताल का असर इमरजेंसी के साथ ओपीडी में भी दिख रहा है। यहां सुबह से ही रजिस्ट्रेशन काउंटर पर मरीजों की लंबी कतार लगी है और हर कोई डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहा है। 

आलम ये है कि ओपीडी में मरीज देखने का वक्त साढ़े 8 बजे से ही लेकिन साढ़े 8 बजे के बाद भी ओपीडी के स्किन विभाग का ताला नहीं खोला गया। दूर दराज से आये मरीजों को ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

बता दें बिहार के जूनियर डॉक्टरों की इस हड़ताल में सभी 9 मेडिकल कॉलेजों के जूनियर डॉक्टर शामिल हैं।  जूनियर डॉक्टरों की मांग है कि उनका स्टाइपेंड बढ़ाया जाए इसके साथ ही उनकी 8 और मांगे हैं। जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन ने अपनी मांगों को पूरा करने के लिए सरकार को 22 सितंबर का तक समय दिया था। 22 सितंबर तक मांग पूरी नहीं होने के बाद आज वे हड़ताल पर चले गए है।  

Find Us on Facebook

Trending News