दीपावली पर बाल गृह पहुंचे किशोर न्याय परिषद् के जज मानवेंद्र मिश्र, बच्चों को अपनी हाथों से खिलाया खाना

दीपावली पर बाल गृह पहुंचे किशोर न्याय परिषद् के जज मानवेंद्र मिश्र, बच्चों को अपनी हाथों से खिलाया खाना

NALANDA : बिहारशरीफ किशोर न्याय परिषद के न्यायाधीश मानवेंद्र मिश्र दीपावली के मौके पर नई सराय स्थित बाल गृह पहुंचे। जहाँ उन्होंने बच्चों के बीच खाना परोस कर तथा फुलझड़ी देकर दिवाली की शुभकामना दी।अनाथ आश्रम में रह रहे बच्चे, जिन्हें भले ही माता पिता का प्यार नहीं मिल पा रहा हो। लेकिन उत्साह प्रेम और दीपों का पर्व दीपावली के दिन उन्हें जज मानवेंद्र मिश्र के हाथो मिठाई खाकर मां की ममता और पिता के प्यार का एहसास हुआ। 

मानवेन्द्र मिश्र की इस पहल से बच्चे काफी उत्साहित दिखे। किशोर न्याय परिषद के न्यायाधीश मानवेंद्र मिश्र ने अपने हाथों से बच्चों की थाली में खाना परोसा और फूलझड़ी दिया तो उन्हें मां पिता का प्यार महसूस हुआ। इस मौके पर जज मानवेंद्र मिश्र ने कहा कि बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए इस बार दीपावली को लेकर किशोर न्याय परिषद के द्वारा इस तरह का निर्णय लिया गया। बच्चे अपने आपको पर्व त्यौहार पर मरहूम नहीं समझे और इनके हौसले को बुलंद रखने के लिए दीपावली अनाथ बच्चों के संग मनाई गई। साथ ही इनके बीच दीपावली की खुशियां बांटी गई। किशोर न्याय परिषद नालंदा तथा जिला बाल संरक्षण इकाई के द्वारा इन अनाथ बच्चों के विकास के लिए कई ऐसे कार्यक्रम किए जाते हैं ताकि इन बच्चों को अपनों से दूरी ना महसूस हो। 

आपको बताते चलें कि जज मानवेंद्र मिश्र किशोर अपराध के मामले में कई अनोखी और चर्चित फैसले सुना चुके हैं। किशोर अभियुक्तों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने तथा उन्हें सामाजिकता और  समाज की उस हकीकत को पहचानने का मौका भी दिया। ताकि किशोर समाज की मुख्यधारा से जुड़ कर स्वावलंबी बनकर खुद को एक बेहतर नागरिक बना सके।

नालंदा से राज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News