कैमूर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, प्रेम जाल में फंसाकर शादी कर बीवी को बेचने वाले गैंग का पर्दाफाश

कैमूर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, प्रेम जाल में फंसाकर शादी कर बीवी को बेचने वाले गैंग का पर्दाफाश

Kaimur: जिले के कुदरा पुलिस ने कुदरा प्रखंड मुख्यालय के पास एक इनोवा कार में सवार कुल 11 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि इनके तार मानव तस्करी से जुड़े हैं. ये लोग फर्जी एनजीओ बनाकर लड़कियों की तस्करी करते है.

मामले के खुलासा तब हुआ जब कैमूर जिले के बेलान्व थाना क्षेत्र के अकोढ़ी गांव का आजाद दीक्षित प्रेम प्रसंग में शादी करने के बाद अपने बीवी को तीन लाख रुपये में बेचने का सौदा मंजू देवी के साथ किया था. कुदरा में ब्लाक के पास बीवी को बेचने के दौरान जब बीवी से और तस्करों की बहस होने लगी तो किसी ने पुलिस को फोन कर दिया और पुलिस मौके पर पहुंचकर सभी को धर दबोचा. इन लोगों में जयपुर की मन्जू देवी उर्फ गायत्री लड़कियों को बड़े शहरों में बेचने का काम करती थी. कैमूर के भभुआ के रुपपुर की मुन्नी देवी उर्फ आशा और दुर्गावती थाना क्षेत्र के छांव का पिन्टू राम और एक बेलान्व थाना क्षेत्र के अकोढ़ी का आजाद दिछित शामिल है. तीनों मिलकर कैमूर जिले से गरीब और भोली भाली लड़कियों को बहला-फुसलाकर जयपुर की रहने वाली मंजू देवी उर्फ गायत्री को बेच दिया करते थे. जिसके बदले इनको मोटी रकम यानी प्रति लड़की दो से तीन लाख रुपये मिलता था. इन लोगों द्वारा कई लड़कियों को पैसे के लालच में आकर बेच दिया गया है.


गिरफ्तार भभुआ के रूपपुर की महिला मुन्नी देवी पहले भी कई मामले में भगवानपुर थाना क्षेत्र से जेल जा चुकी है. इनके चंगुल मे फंसी लड़की ने बताया शादी करवाने का झांसा देकर हमको पिछले माह दो से तीन लाख रुपए में बड़े शहरों में मन्जू देवी उर्फ गायत्री ने बेच दिया. वहां कुछ दिनो तक मेरे साथ 5 लोग रात भर मेरे शरीर को नोचते थे. जब लोग शराब के नशे में सो गए तो मैं मकान के छत से नीचे कूद गई और किसी तरह भागकर बिना पैसे के कैमूर पहुंची. आज फिर यह लोग और लड़कियों को झांसा देकर अपने साथ ले जाने आए थे.

कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया मानव तस्करों का यह बहुत बड़ा रैकेट है. एनजीओ के आड़ में गरीब लड़कियों को शादी कराने के नाम पर इन्हें बेचने का काम करते थे. उनके पास से कई चीजें बरामद हुई है.

Find Us on Facebook

Trending News