विधानसभा अध्यक्ष ने सभा सचिवालय के पदाधिकारियों और कर्मियों को किया संबोधित, दिए कई निर्देश

विधानसभा अध्यक्ष ने सभा सचिवालय के पदाधिकारियों और कर्मियों को किया संबोधित, दिए कई निर्देश

PATNA : बिहार विधान सभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने आज सेंट्रल हाॅल में सभा सचिवालय के पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने सभी पदाधिकारियों एवं कर्मियों से उनका परिचय प्राप्त किया तथा उनसे उनके शाखा के क्रियाकलाप की जानकारी ली. इस दौरान उन्होने कहा कि बिहार विधान सभा बिहार में लोकतंत्र का सबसे बड़ा मंदिर है, जहाँ से मुझे और विधायकों को जनसेवा का मौका मिलता है. आप सब भाग्यशाली हैं कि इस लोकतांत्रिक मंदिर के महत्वपूर्ण भाग हैं. बिना आपके सक्रिय सहयोग के सभा सचिवालय की कार्य कुशलता नहीं बढ़ सकती है. साथ ही उन्होेंने कहा कि यह सचिवालय सामान्य सचिवालय से हटकर है. जहाॅं सदस्यों और पूर्व सदस्यों से संबंधित कार्य के साथ-साथ सबसे महत्वपूर्ण कार्य विधायी कार्यों का निपटारा भी होता है. 

उन्होंने सभी कर्मियों को अपने जीवन में अच्छे चरित्र और अनुशासन का पाठ पढ़ाया. अनुशासनहीन आचरण बर्दाश्त नहीं करने की बात कही और सभी सदस्यों और पूर्व सदस्यों से सम्मानजनक व्यवहार करने, ड्रेस कोड का पालन करने, ससमय सभी कार्यों का निष्पादन करने का निर्देश भी दिया. उन्होने पदाधिकारियों से भी अपने कनीय कर्मियों से शिष्ट व्यवहार रखने तथा नये कर्मी से अनुभवी कर्मियों के अनुभव का लाभ लेने के लिए सामंजस्य स्थापित करने का भी निर्देश दिया. उनके द्वारा समय पर कार्यालय आने और जाने का निर्देश भी दिया गया. उपस्थित युवा कर्मियों को उन्होंने  स्वामी विवेकानंद की बात -उठो, जागो और तब तक चलो जब तक लक्ष्य हासिल न हो जाये, बता कर उत्साहित किया. 

उन्होंने कहा कि आपके सकारात्मक कार्यों से सभा सचिवालय की गरिमा भी बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि आप अपनी पूरी योग्यता से मुझे सहयोग दें, मैं आपके वाजिब सहुलियतों को आप तक पहुँचा दूँगा. उन्होंने कहा कि संसदीय समितियाॅं प्रत्येक साल में कम से कम तीन प्रतिवेदन एवं प्रत्येक सत्र में कम से कम एक प्रतिवेदन आवाश्य सौंपे, ऐसा उन्होंने उपस्थित कर्मियों को निर्देश दिया. कर्मियों के डिजिटल ज्ञान से कैसे सभा सचिवालय को गुणवत्तापूर्ण और प्रभावकारी तरीके से आगे ले जाये जाये, इस पर उनके कुछ सुझाव भी लिखित रूप से कार्यालय को उपलब्ध कराने को कहा. 

उन्होने कहा कि मुझे ईश्वर ने जब यह मौका दिया है कि मैं यहाँ अध्यक्ष के रूप में सेवा दे सकूँ तो आपको भी यह मौका मिला है कि आप बेहतर तालमेल और कार्यकुशलता से सभा सचिवालय में सकारात्मक माहौल बनाकर इसे ऊँचाई प्रदान करें. उन्होंने कहा कि मेरा दरवाजा आप सब के लिए खुला हुआ है. आपकी सहूलियत और आपका वाजिब हक प्रदान करना मेरी प्राथमिकता है. आप खुश रहेंगे तब दोगुने उत्साह से कार्य करेंगे. लेकिन ध्यान रहे अनुशासन का हर हाल में पालन हो, व्यवहार में विनम्रता और सौम्यता बनी रहे. ससमय कार्यों का त्वरित निष्पादन हो. पूरी क्षमता से आप कार्य करें. इस मौके पर बिहार विधान सभा के सचिव राज कुमार सिंह उपस्थित थे. 

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News